Saturday, January 29, 2022
हमें फॉलो करें :

गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश आगराअगस्त तक मिल सकता है लेडी लायल को आक्सीजन प्लांट

अगस्त तक मिल सकता है लेडी लायल को आक्सीजन प्लांट

हिन्दुस्तान टीम,आगराNewswrap
Wed, 07 Jul 2021 06:10 PM
अगस्त तक मिल सकता है लेडी लायल को आक्सीजन प्लांट

फोटो-

- लेडी लॉयल परिसर में प्लांट बनने का काम हुआ शुरू

- 100 सिलिंडर प्रतिदिन क्षमता वाला लगाया जा रहा है प्लांट

आगरा, कार्यालय संवाददाता।

जिला महिला चिकित्सालय में अगस्त तक आक्सीजन प्लांट मिलने की संभावना है। आक्सीजन प्लांट बनाने का काम शुरु हो चुका है। जल्द ही जिला महिला चिकित्सालय के पास भी आक्सीजन की व्यवस्था होगी।

बता दें कि महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य की ओर से 5 मई को शासनादेश जारी किया गया था। जिसके तहत कोरोना महामारी की दूसरी लहर को दृष्टिगत रखते हुए सरकार की ओर से 34 चिकित्सालयों में आक्सीजन प्लांट लगाने और आक्सीजन पाइप लाइन का काम प्राथमिकता से करने के आदेश दिए थे। जिसमें 21 अस्पतालों में डीआडीओ, 3 हाईटस और 10 चिकित्सालयों में पैट्रोलियम मंत्रालय की ऑयल कंपनीज के माध्यम से आक्सीजन प्लांट लगाए जाने थे। जिसके तहत जिला महिला चिकित्सालय में भी आक्सीजन प्लांट लगाने का प्रस्ताव 6 मई को पारित हुआ। साथ ही 20 जून तक प्लांट लगकर तैयार होना था। लेकिन कोरोना महामारी के चलते दूसरी लहर में यह कार्य नहीं हो पाया। अब आक्सीजन प्लांट का काम शुरू कर दिया गया है। अधीक्षिका डा रेखा गुप्ता ने बताया कि सिविल काम लगभग पूरा हो चुका है। तकनीकी काम बाकी है, वो जुलाई तक संपन्न हो जाएगा।

कितनी रहेगी क्षमता

डा रेखा गुप्ता ने बताया शासनादेश के अनुसार 100 सिलिंडर रोजाना की खपत हो सकती है। उन्होंने बताया कि कोरोना काल को छोड़ दिया जाए। तो लगभग 40 से 35 सिलिंडर की आवश्यकता तो होती है। क्योकि एसनसीयू में 12 बेड हैं। इसमें लगभग 7- 8 सिलिंडर की तो प्रतिदिन आवश्यकता होती ही है। इसके बाद अगर बच्चों की संख्या बढ़ती है। तो अलग से बेड लगाने होते हैं। वहीं 3 से चार हाईरिस्क प्रेग्नेंसी भी होती हैं। कोरोना काल में लगभग 70 से 80 सिलिंडर की आवश्यकता रही।

epaper

संबंधित खबरें