DA Image
26 फरवरी, 2021|8:43|IST

अगली स्टोरी

कासगंज में कस्तूरबा की फर्जी वार्डन और शिक्षिका पर मुकदमा

default image

अनामिका शुक्ला के नाम पर फर्जी नियुक्ति के बाद कस्तूबा विद्यालयों में दो और फर्जी नियुक्तियों के मामले मिलने से हड़कंप मचा हुआ है। जांच में परत दर परत विभागीय लापरवाही उजागर हो रही है। बीएसए की ओर से मैनपुरी की महिला शिक्षिका लक्ष्मी के नाम से फर्जी नौकरी करने वाली शिक्षिका और फर्जी बीएड डिग्री से वार्डन पद पर नियुक्ति पाने वाली शिक्षिका के खिलाफ सोरों और अमांपुर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराने को रिपोर्ट भेजी गई है। पुलिस ने देर शाम दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। इस प्रकार अब तक दो फर्जी टीचरों व एक वार्डन पर मकदमा दर्ज हो चुका है। मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस ने मामले की जांच प्रारंभ कर दी है।

बीएसए अंजली अग्रवाल ले बताया कि अनामिका शुक्ला के नाम पर फर्जी नियुक्ति का मामले में जांच रही है। उसी दौरान मैनपुरी की लक्ष्मी के नाम पर फर्जी रूप से महिला नियुक्ति पाकर नौकरी पाने का मामला सामने आया है। यह मामला तत्कालीन बीएसए गीता वर्मा के समय वर्ष 2016 का है। फर्जी नौकरी करने वाली शिक्षिका लॉकडाउन होने के बाद से ही गायब है। बीएसए ने बताया कि उसके खिलाफ अमांपुर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराने के लिए रिपोर्ट भेजी दी गई है। बीएसए के मुताबिक कस्तूरबा आवासीय विद्यालय फरीदपुर में ही एक वार्डन की नियुक्ति हुई थी। एसआईटी की जांच में उसकी बीएड की डिग्री फर्जी पाये जाने के बाद वार्डन चित्रा शर्मा के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कराने के लिए सोरों कोतवाली में तहरीर भेजी गई थी।

जांच समिति से हटाये गये डीसी बालिका शिक्षा :कासगंज। कस्तूबा आवासीय विद्यालय की जांच समिति में सदस्य डीसी(जिला समन्वयक) बालिका शिक्षा गौरव सक्सैना पर ही एक फाइल को लेकर तत्कालीन डीसी बालिका शिक्षा जीएस राजपूत ने मौखिक आरोप लगा दिया। इसके बाद बीएसए ने तत्काल जांच समिति से गौरव सक्सैना को हटाते हुए उनकी जगह हाल ही में ज्वाइन करने वाले डीसी महेश कुमार सिंह को जांच समिति में सदस्य बतौर रखा है।

बीएसए अंजली अग्रवाल ले बताया कि, जांच में घेरे में आए तत्कालीन जिला समान्वयक जीएस राजपूत ने अपना पक्ष रखते हुए बताया कि अनामिका शुक्ला की नियुक्त आवेदन फाइल में अनामिका का फोटो लगा हुआ था। उसकी फाइल गौरव सक्सैना को चार्ज में दी गई हैं। ऐसे में सदस्य पर ही सवाल उठने पर बीएएस ने जांच को निष्पक्ष रखने के लिए सदस्य गौरव सक्सैना को जांच से अलग कर दिया।

लक्ष्मी के नाम पर नियुक्ति की भी जांच शुरू :कस्तूरबा विद्यालयों से संबंधित जांच करने वाली समिति ने मैनपुरी की लक्ष्मी के नाम पर फर्जी नियुक्ति प्रकरण में भी शनिवार से जांच शुरू हो गई। बीएसए ने बताया कि इस प्रकरण में दो सदस्यीय जांच समिति जांच कर रही है। इसमें जांच समिति संबंधित लोगों को नोटिस देकर जांच की कार्यवाही आगे बढ़ा रहे हैं। जांच रिपोर्ट आने पर आगे की कार्यक्रम की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kasturba 39 s fake warden and teacher sued in Kasganj