DA Image
27 नवंबर, 2020|10:59|IST

अगली स्टोरी

अछनेरा में बीईओ के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश

default image

विकास खंड अछनेरा में तैनात बीईओ भुवनेश चौधरी पर मुकदमा दर्ज होने की तलवार लटक गई है। बीईओ पर आरोप है कि एक प्रधानाध्यपक के अपने मूल दस्तावेज पोर्टल पर अपलोड करने के लिए दिए थे। लेकिन काफी समय होने के बाद भी दस्तावेज वापस नहीं किए गए हैं। पीड़ित ने विकास खंड के काफी चक्कर लगाए, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली है। मामले में महानिदेशक स्कूली शिक्षा ने कार्रवाई के आदेश दिए हैं। इससे कार्यालय में हड़कंप मच गया है।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय गढ़ीमा में प्रधानाध्यापक पद पर तैनात शैलेन्द्र कुमार ने काफी दिनों पहले सत्यापन के लिए अपने मूल अभिलेख लिपिक राजवीर सिंह को दिए थे। राजवीर ने सत्यापन की प्रक्रिया पूरी होने के बावजूद शैलेन्द्र कुमार को अभिलेख वापस नहीं किए। हाल ही में मानव संपदा पोर्टल पर शैलेंद्र कुमार को अपने अभिलेख अपलोड करने के लिए अभिलेखों की आवश्यकता हुई। शैलेंद्र ने कार्यालय पर काफी चक्कर लगाए। इसके बाद राजवीर सिंह समेत बीईओ को लिखित में शिकायत देने के बावजूद अभिलेख मुहैया नहीं कराए गए। परेशान होकर शैलेन्द्र कुमार ने महानिदेशक स्कूली शिक्षा विजय किरन आनंद को शिकायत भेजी। जिस पर महानिदेशक ने शिकायत का तत्काल संज्ञान लेते बीएसए को निर्देशित किया। जिसके बाद बीएसए ने बीईओ भुवनेश चौधरी को शैलेन्द्र कुमार के अभिलेख बिना किसी देरी के मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं। अन्यथा की स्थिति में लिपिक राजवीर और भुवनेश के खिलाफ थाना अछनेरा में मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Instructions for action against BYO in Achnera