DA Image
24 नवंबर, 2020|12:22|IST

अगली स्टोरी

सरकारी नीतियों के कार्यान्वयन को जन आंदोलन जरूरी

default image

आगरा। डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद की कार्यशाला का आयोजन किया गया। ऑनलाइन आयोजित हुई कार्यशाला में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए कुलपति प्रो. अशोक मित्तल ने कहा कि सरकार का पूरा प्रयास है कि हमारा देश शीघ्र विकसित होकर 5ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बने। इसके लिए सरकार बहुत ही जनोपयोगी योजनाएं बना रही है। अब हम सब नागरिकों की जिम्मेदारी है कि इसे जन आंदोलन बनाकर सफल बनायें। नीतियों के कार्यान्वयन व जागरूकता में शिक्षकों की भूमिका बहुत अहम है। शिक्षक हमेशा से ही समाज निर्माण में अपनी भूमिका निभाता रहा है। आज पुनः आवश्यकता है कि हम सभी राष्ट्र निर्माण में जुट जाएं। यह विश्वविद्यालय ग्रामीण विकास के लिए सरकार की योजनाओं को जमीनी स्तर पर ले जाने के लिए सदैव तत्पर है। राज्य समन्वयक के रूप में अनिल कुमार दुबे ने कार्यशाला का संचालन किया। कार्यशाला में शिक्षा संकाय की अध्यक्ष डॉ. पुनीता माहेश्वरी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कुलसचिव कर्नल डॉ. अंजनी कुमार मिश्र और संबद्ध महाविद्यालयों के प्रधानाचार्यों प्रतिभाग किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Implementation of government policies required mass movement