Goshala will be started to build in a month in Soron - 62.5 बीघा भूमि में होगा कान्हा गौसंरक्षण केंद्र का निर्माण DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

62.5 बीघा भूमि में होगा कान्हा गौसंरक्षण केंद्र का निर्माण

सोरों के गांव पचलाना में कान्हा गौसंरक्षण केंद्र का निर्माण एक माह में शुरू हो जाएगा। पांच हेक्टेयर में बनने वाले इस गौ-संरक्षण केंद्र में दो सौ से अधिक गौवंश रह सकेंगे। शासन से इसके निर्माण के लिए एक करोड़ 20 लाख रुपये पीडब्ल्यूडी को मिल भी गए हैं।

जनपद में आवारा गौवंश की समस्याओं को दृष्टिगत रखते हुये सोरों के पचलाना में एक माह में कान्हा गौसंरक्षण केंद्र का निर्माण शुरू हो जाएगा। पीडब्ल्यूडी ने शासन से धनराशि मिलने के बाद इसके निर्माण का ले आउट बनाना शुरू भी कर दिया है। डीएम चंद्र प्रकाश सिंह के निर्देश के बाद पीडब्ल्यूडी एक माह में इस केंद्र के भवन का निर्माण शुरू करा देगा। पीडब्ल्यूडी इस गौशाला में गौवंश को रखने के लिए दो बड़े टीन शेड का निर्माण करेगी। पशु चारा रखने के लिए इसमें दो गोदामों का निर्माण होगा। पशुओं को पीने के पानी के लिए अलग से पंप आदि भी गौशाला में बनेगी।

किसानों को आवारा गौवंश से मिलेगी राहत

जनपद के किसान आवारा गौवंश से खासे परेशान हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में घूमते आवारा पशु किसानों की फसलों को बर्बाद करते हैं। बीते दिनों किसानों ने तीन गांवों में आवारा पशुओं को परिषदीय विद्यालयों में बंद कर दिया था। इस गौशाला के निर्माण के बाद किसानों को काफी राहत मिलेगी और आवारा गौवंश को पचनाला गौशाला में रखा जा सकेगा।

सोरों के गांव पचलाना में कान्हा गौ-संरक्षण केंद्र के लिए शासन से 1.20 करोड़ की धनराशि मिली है। पीडब्ल्यूडी इसका ले आउट बनाकर एक माह में काम शुरू कर देगी। जिसके बाद इस गौशाला में दो सौ के करीब गौवंश रखे जा सकेंगे।

-सुधीर कुमार, अधिशाषी अभियंता, पीडब्ल्यूडी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Goshala will be started to build in a month in Soron