DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंगा स्नान को उमड़ी भीड़, सात श्रद्धालु डूबने से बचाये

गंगा स्नान को उमड़ी भीड़, सात श्रद्धालु डूबने से बचाये

पूर्णिमासी के मौके पर गंगा स्नान करने के लिए श्रद्धालुओं की जबर्दस्त भीड़ उमड़ पड़ी। गंगा के कछला और लहरा घाट पर मंगलवार को श्रद्धालुओं की भीड़ के कारण कदम रखने तक के लिए जगह नहीं बची। स्नान के दौरान सात श्रद्धालु डूबने गले, जिन्हे तत्काल गोताखोरों ने बचा लिया है।

मंगलवार को पूर्णिमा के मौके पर सुबह से ही श्रद्धालुओं का रुख गंगा स्नान करने के लिए हो गया था। सड़कों पर वाहनों की तादात अन्य दिनों की अपेक्षा आज ज्यादा थी। श्रद्धालु ट्रेनों और बसों से गंगा स्नान करने के लिए गंगा के कछला और लहरा गंगा घाट पर पहुंचे थे। तीर्थ नगरी सोरों में भी हरिपदी गंगा में श्रद्धालुओं ने स्नान किया। स्नान के बाद गंगा घाटों पर श्रद्धालुओं ने अपने तीर्थ पुरोहितों के साथ धार्मिक अनुष्ठान आदि धार्मिक कार्य किये। श्रद्धालु गंगा में डुबकी लगाकर स्नान करने में लगे थे, तभी दोपहर के समय अलग-अलग शहरों से आए सात श्रद्धालु गहरे पानी की ओर चले गये और डूबने लगे। डूबते देख श्रद्धालुओं ने बचाव को पुकार लगाई। यह देख गोताखोर उतर गये। इस दौरान कासगंज क्षेत्र से गये हरीशंकर और सौरव को गोताखोरों ने तत्काल सुरक्षित बाहर निकाल लिया। इसी तरह से राजेश, सोमेश और राजपाल निवासी जिला धौलपुर को भी गोताखोरों ने डूबने से बचा लिया। वहीं मुरैना जिले से आए ओमेंद्र को भी डूबते देख गोताखोरों ने बचा लिया। जिस समय श्रद्धालुओं के डूबने की स्थिति बनी थी, तब उनके साथ आए लोगों की घबराहट बढ़ गई, वे परेशान दिख रहे थे। गोताखोरों में नसरूद्दीन अप्पू अजमेरी नाजिम अनवार ने बताया कि गंगा किनारे हम लोग नाव पर बैठकर श्रद्धालुओं को आगाह करने में लगे थे, इसके बाद भी श्रद्धालु गहरे पानी की ओर स्नान करने में लगे थे, तभी देखा तो श्रद्धालु डूब रहे थे, उन्हें तत्काल बचा लिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ganges bath rush crowd, seven devotees saved from drowning