fraud - मोबाइल पावर बैंक की आड़ में बेच रहे मिट्टी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोबाइल पावर बैंक की आड़ में बेच रहे मिट्टी

ऑनलाइन शॉपिंग के नाम पर लोगों से धोखाधड़ी की जा रही है। कंपनी के मोबाइल पावर बैंक के अंदर मिट्टी भर कर बेची जा रही है। पुलिस ने लोगों से ठगी करने वाले ऐसे दो लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से दर्जनों मोबाइल पावर बैंक, पैन ड्राइव और कार्ड रीडर बरामद किए गए हैं। इस खेल में पुलिस के निशाने पर दो प्राइवेट कंपनियां है। नकली माल की सप्लाई दिल्ली से हो रही है। एएसपी श्लोक कुमार ने बताया कि कई ग्राहकों ने ऑनलाइन शॉपिंग के नाम पर डिब्बों में मिट्टी और पत्थर मिलने की शिकायत की थी। इस पर एक टीम को नियुक्त किया गया। पुलिस ने ग्राहक बनकर ऑनलाइन बुकिंग की। सुधीर भारद्वाज द्वारिकापुरम बाईपास रोड के नाम से सात सितंबर को पैन ड्राइव, मोबाइल पावर बैंक और कार्ड रीडर का ऑर्डर बुक कराया गया। 11 सितंबर को यह माल सप्लाई किया गया। डिलीवरी के लिए बिसावर, सादाबाद निवासी करन आया। ग्राहक सुधीर डिब्बा खोलने लगे, तो करन ने पहले रुपये देने को कहां। जब डिब्बा खोलकर देखा, तो पावर बैंक के अंदर मिट्टी भरी हुई थी। करन को मौके से गिरफ्तार कर लिया। उसकी जानकारी पर मधु नगर (सदर) निवासी राजू को इकोम एक्सप्रेस कोरियर खंदारी के बाहर से गिरफ्तार किया गया। उसके पास से 38 नकली पावर बैंक बरामद किए गए। यह नकली सामान सैमसंग कंपनी के नाम पर बेच जा रहा है। दिल्ली की ओम कारर्पोरेशन कंपनी से माल सप्लाई हो रहा है। बुकिंग दूसरी कंपनी से की जा रही है। दोनों कंपनियों को लेकर छानबीन की जा रही है। दोनों अभियुक्तों को धोखाधड़ी में जेल भेजा जा रहा है। ------------- पावर बैंक के अंदर एक बैटरी और मिट्टी ग्राहकों को जो माल सप्लाई की जा रहा है, उसके अंदर मिट्टी भरी जाती है। पुलिस ने मोबाइल पावर बैंक को अंदर से खोलकर देखा। उसमें एक छोटी बैटरी लगी है और मिट्टी थी। इससे मोबाइल पर लगाने पर बैटरी कुछ समय के लिए चार्ज करती है। इसी का फायदा फर्जी कंपनी उठा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:fraud