DA Image
15 अक्तूबर, 2020|3:31|IST

अगली स्टोरी

पांच महीने बाद कोरोना संक्रमितों में सितंबर के अंत में आई कमी

default image

जनपद में तेरह अप्रैल से शुरू हुआ कोरोना संक्रमितों के निकलने का सिलसिला भले ही अब तक बंद नहीं हुआ है, लेकिन बीते पांच महीनों की अगर तुलना करें तो सितंबर माह के अंतिम दिनों में कोरोना में कुछ गिरावट आई है। जिसे स्वास्थ्य विभाग राहत भरा मान रहा है। स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन का यह भी स्पष्ट संकेत है कि अगर अभी भी ज्यादा लापरवाही बरती गई तो कोरोना फिर से ज्यादा फैल सकता है।

जनपद में कोरोना संक्रमण की शुरुआत अप्रैल माह में तीन कोरोना संक्रमित निकले थे। मई माह में कुछ बढ़कर 15 केस निकले। इसके बाद जून में फिर बढ़े और पूरे जून माह में 22 संक्रमित निकले। जबकि जुलाई से वायरस तेजी से फैला और एक ही माह में 378 संक्रमित जिले में पाए गए। अगस्त भी में भी खूब लोग संक्रमण की चपेट में आए। अगस्त में 376 कोरोना संक्रमित एक माह में ही निकले। जिससे कोरोना संक्रमितों की संख्या 1000 पहुंच गई। जबकि सितंबर माह में शुरुआत में केस ज्यादा निकले, लेकिन सितंबर के अंतिम दिनों में कोरोना संक्रमितों में दिन रोज गिरावट दर्ज होने लगी। सितंबर के अंतिम सप्ताह में कोरोना संक्रमितों की संख्या घटकर 10 संक्रमितों से प्रतिदिन कम ही रही। सितंबर में एक से लेकर 16 सितंबर तक 314 कोरोना केस निकले जबकि 17 सितंबर से लेकर 30 सितंबर तक यह घटकर 84 कोरोना केस ही रह गए।

कोरोना से तीन और संक्रमित पाए गए

कासगंज। जनपद में अक्तूबर माह की शुरुआत कोरोना संक्रमण के मामले में राहत भरी रही। जनपद में हुई 1004 कोरोना वायरस की जांचों में तीन लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। जिन्हें कोविड अस्पताल के आइसोलेशेन वार्ड में भर्ती कराया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Five months later corona infects decrease in late September