ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश आगराबिहार से बेची जा रही थीं नकली किताबें

बिहार से बेची जा रही थीं नकली किताबें

ओसवाल बुक्स की नकली किताबें बाजार में बिकने के तार पटना (बिहार) से जुड़े। लोहामंडी थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया...

बिहार से बेची जा रही थीं नकली किताबें
हिन्दुस्तान टीम,आगराThu, 30 Nov 2023 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

ओसवाल बुक्स की नकली किताबें बाजार में बिकने के तार पटना (बिहार) से जुड़े। लोहामंडी थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। एसीपी लोहामंडी दीक्षा सिंह ने बताया कि ओसवाल कंपनी के राजेश उपाध्याय की तहरीर पर पुलिस ने धोखाधड़ी और कॉपी राइट एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया था। मुकदमे में आरोप लगाया था कि पटना (बिहार) में एमआई पब्लिकेशन का इरफान उनकी कंपनी की नकली किताबें बाजार में बेच रहा है। राजामंडी के एक दुकानदार को उसने 55 प्रतिशत डिस्काउंट पर उनकी कंपनी की किताबें भेजी हैं। उनके पास इसके प्रमाण हैं। जबकि उनकी कंपनी दुकानदारों को 30 प्रतिशत डिस्काउंट पर किताबें देती हैं।

पुलिस ने पटना में दबिश दी थी। आरोपित को पकड़ा गया। उसे जेल भेजा जा रहा है। पूछताछ में उसने कई लोगों के नाम बताए हैं। ओसवाल बुक्स के सीईओ प्रशांत जैन का कहना है कि वे पाइरेसी को पनपने नहीं देंगे। बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। नकली किताबें बेचने वालों के खिलाफ कानूनी लड़ाई शुरू कर दी है। एक ही आरोपित से पूछताछ में कई लोगों के नाम उजागर हुए हैं। उनके खिलाफ भी पुलिस जल्द कार्रवाई करेगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें