DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  आगरा  ›  23 से एक मई तक नहीं बनेंगे ड्राइविंग लाइसेंस

आगरा23 से एक मई तक नहीं बनेंगे ड्राइविंग लाइसेंस

हिन्दुस्तान टीम,आगराPublished By: Newswrap
Thu, 22 Apr 2021 10:22 PM
23 से एक मई तक नहीं बनेंगे ड्राइविंग लाइसेंस

कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए संभागीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) में शुक्रवार से ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बनाए जाएंगे। लर्निंग, स्थायी, नवीनीकरण समेत लाइसेंस का किसी तरह का कार्य नहीं होगा। जिन आवेदकों के स्लॉट एक मई तक के बीच दिए गए हैं, उनके टेस्ट आदि के कार्य 15 मई के बाद री शेड्यूल किए जाएंगे। शासन के निर्देश पर 23 अप्रैल से एक मई तक लाइसेंस सबंधी कार्य स्थगित रहेंगे।

उत्तर प्रदेश के परिवहन आयुक्त धीरज साहू ने सभी सहायक संभागीय परिवहन अधिकारियों को इस आशय के निर्देश दिए हैं। एआरटीओ प्रशासन अनिल कुमार सिंह का कहना है कि लाइसेंस संबंधी कार्य एक मई तक स्थगित रहेंगे। वहीं संभागीय परिवहन विभाग के प्राविधिक निरीक्षक उमेशचंद कटियार ने बताया कि संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के कारण जिन लोगों ने स्लॉट लिए थे, वह भी टेस्ट देने के लिए नहीं पहुंच रहे थे।

प्रशिक्षु लाइसेंस का प्रतिदिन 300 का स्लॉट और स्थायी का 200 लाइसेंस का स्लॉट चल रहा था। 99 प्रतिदिन लाइसेंस नवीनीकरण कराने का स्लॉट निर्धारित था। लेकिन एक सप्ताह से इसमें खासी कमी आई थी। अब लखनऊ मुख्यालय ने सभी तरह के लाइसेंस के कार्य बंद करने के निर्देश दिए हें। एक मई तक ऑनलाइन आवेदन नहीं हो सकेंगे। जिन लोगों को 23 अप्रैल से एक मई तक के बीच टेस्ट व बायोमैट्रिक के लिए तारीखें मिली हुई हैं, उन्हें प्राथमिकता के आधार पर 15 मई के बाद की तारीखें दी जाएंगी।

इससे पहले कोरोना महामारी के चलते पिछले वर्ष 24 मई से एक जून तक लाइसेंस संबंधी कार्य बंद रहा था।

लाइसेंस की वैधता तिथि 30 जून तक बढ़ाई

परिवहन मंत्रालय ने ऐसे ड्राइविंग लाइसेंस जिनकी वैधता एक फरवरी 2020 के बाद समाप्त हो चुकी है अथवा तीस जून 2021 तक समाप्त हो जाएगी, की वैधता 30 जून तक बढ़ा दी गई है। ऐसे लाइसेंस धारकों का इस आधार पर वाहन अधिनियम के तहत चालान नहीं किया जा सकता है।

संबंधित खबरें