DA Image
7 अगस्त, 2020|6:50|IST

अगली स्टोरी

नगर निगम में भी पहुंच गई पहुंची कोरोना की दहशत

default image

आगरा। वरिष्ठ संवाददाता

नगर निगम में कोरोना की दहशत फैल गई है। गुरुवार को एंटीजन टेस्ट में निर्माण विभाग का क्लर्क और वित्त विभाग का चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संदिग्ध मिले हैं। सेनेटाइज कराने के बाद दोनों विभाग सील कर दिए गए हैं। सभी कर्मचारियों को घर भेज दिया गया।

नगर निगम में गुरुवार को रैपिड टेस्टिंग के लिए कैंप लगाया गया था। 100 कर्मचारियों की टेस्टिंग की गई। कुछ देर में रिपोर्ट आ गई। इन्हीं में से दो कर्मचारी संदिग्ध मिले। निर्माण विभाग के कर्मचारी को कुछ दिन पहले टायफाइड हुआ था। टेस्टिंग के वक्त नगर आयुक्त कमिश्नरी में ताज ट्रिपेजियम जोन की बैठक में थे। अपर नगर आयुक्त शासन स्तर पर होने वाली वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में व्यस्त थे। जानकारी पर अपर नगर आयुक्त ने दोनों विभागों को बंद करने के आदेश दिए। अपर नगर आयुक्त केबी सिंह ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव होने जैसी कोई बात नहीं है। एहतियातन दोनों विभागों को सील किया है। अन्य सभी विभाग खुले हैं। आगे जो रिपोर्ट आएगी, उसके बाद फैसला लिया जाएगा।

आरटी-पीसीआर से आएगी कन्फर्म रिपोर्ट

रैपिड एंटीजन टेस्ट के तहत एक साथ कइयों की जांच की जाती है। नेगेटिव आया तो ठीक, पॉजिटिव मामलों में आरटी-पीसीआर पद्धति से जांच कराई जाती है। आरटी-पीसीआर जांच पर वही नमूने दोबारा भेजे जाते हैं। इन कर्मियों के नमूने भी आरटी-पीसीआर पर जांच के लिए भेज दिए हैं। शुक्रवार को इसी से कन्फर्म रिपोर्ट आएगी। तब तक सभी होम क्वारंटाइन रहेंगे।

......................

निगम कर्मियों में बढ़ी बेचैनी

इस घटना के बाद से नगर निगम के कर्मचारी बेचैन हैं। सर्वाधिक परेशान वे कर्मचारी हैं, जो निर्माण और वित्त विभाग में काम करते हैं। प्रतिदिन दोनों से मिल रहे थे। उन सभी को डर सताने लगा है।

......................

प्रवेश द्वार से पार्किंग तक सेनेटाइज

नगर निगम के कर्मचारियों ने प्रवेश द्वार से लेकर मुख्य परिसर में ग्राउंड फ्लोर, दूसरी मंजिल तक हर कार्यालय, पोस्ट ऑफिस, बैंक, स्मार्ट सिटी कार्यालय, डूडा कार्यालय, कैंटीन, पार्किंग एरिया समेत सभी स्थलों को सेनेटाइज किया। यह काम शाम तक चलता रहा।

.....................

स्वास्थ्य विभाग को कांटेक्ट ट्रेसिंग करनी होगी

जो दो कर्मचारी एंटीजन टेस्ट में संदिग्ध मिले हैं, उनकी कांटेक्ट ट्रेसिंग करनी होगी। ताकि पता चल सके कि ये लोग किस-किससे मिले हैं। उनके परिवार की हिस्ट्री पता करनी होगी। हालांकि यह काम आसान नहीं है। उधर अधिकारियों का कहना है कि नगर निगम में कोरोना को लेकर विशेष सावधानी बरती जा रही है। परिसर को कई बार सेनेटाइज किया जा रहा है। मुख्य परिसर में अधिक लोगों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। एंट्री गेट पर सेनेटाइजेशन टनल से होकर लोग आ रहे हैं। थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona reached panic even in Municipal Corporation