DA Image
29 सितम्बर, 2020|1:21|IST

अगली स्टोरी

घर में वाणिज्यिक गतिविधि तो लेना होगा ट्रेड लाइसेंस

default image

आगरा। वरिष्ठ संवाददाता

यदि आपका घर छावनी क्षेत्र में है और उसमें कोई दुकान, फैक्ट्री चल रही है तो आपको ट्रेड लाइसेंस लेना होगा। छावनी परिषद ऐसे भवन स्वामियों को अस्थाई ट्रेड लाइसेंस देगा। ट्रेड लाइसेंस के बदले में भवन स्वामी से फीस वसूली जाएगी। सभी को आवेदन के लिए तीन महीने मिलेंगे। इन तीन महीनों में आवेदन न करने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा।

छावनी परिषद अपनी आय बढ़ाने के लिए निरंतर नए कदम उठा रहा है। अब उसने क्षेत्र स्थित मकानों में चल रही वाणिज्यिक गतिविधियों से कमाई करने की ठानी है। छावनी परिषद के राजस्व निरीक्षक डॉ. अशोक शर्मा ने बताया कि छावनी प्रशासन मकानों में चल रही दुकानों, फैक्ट्री, शोरूम सहित सभी वाणिज्यिक गतिविधियों पर ट्रेड लाइसेंस फीस वसूलेगा। इसके लिए सभी भवन स्वामियों को अवगत कराया जा रहा है। अगले वर्ष एक अप्रैल से 30 जून के बीच भवन स्वामियों को आवेदन करना होगा। उन्हें निर्धारित फीस के बदले अस्थाई ट्रेड लाइसेंस दिया जाएगा। जिन घरों में खाद्य पदार्थ से संबंधित कुटीर उद्योग चल रहे हैं, उन्हें जांच के बाद लाइसेंस दिया जाएगा। लाइसेंस हर साल लेना होगा। किसी को भी इससे छूट नहीं मिलेगी।

लाइसेंस नहीं लिया तो जुर्माना

डॉ. अशोक शर्मा ने बताया कि निर्धारित तीन महीनों में आवेदन न करने वाले और रिन्यूवल न कराने वालों पर जुर्माना लगेगा। कोई शिकायत मिलती है तो जांच में सही पाए जाने पर भी पेनल्टी का प्रावधान है।

सैकड़ों मकानों में खुली हैं दुकानें

छावनी परिषद के रिकॉर्ड के अनुसार शहजादी मंडी, नौलक्खा, सदर, सुल्तानपुरा आदि इलाकों के सैकड़ों घरों में दुकान, शोरूम खुल गए हैं। ये लोग उनसे किराया लेकर कमाई कर रहे हैं। जबकि छावनी परिषद को मामूली गृहकर चुका रहे हैं। ऐसे लोगों से छावनी परिषद ट्रेड लाइसेंस फीस वसूलेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Commercial license will have to be taken for commercial activity at home