DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › आगरा › जोधपुर झाल में बर्डवॉचर को दो घंटे में दिखे 58 प्रजाति के पक्षी
आगरा

जोधपुर झाल में बर्डवॉचर को दो घंटे में दिखे 58 प्रजाति के पक्षी

हिन्दुस्तान टीम,आगराPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 09:45 PM
जोधपुर झाल में बर्डवॉचर को दो घंटे में दिखे 58 प्रजाति के पक्षी

भरतपुर बर्डिंग सप्ताह (पांच से दस अक्तूबर तक) का समापन हो गया। इसमें दुनियाभर के बर्डवॉचर ने भरतपुर, धौलपुर और जोधपुर झाल में पक्षियों की गणना की। यहां बर्डवॉचर ने दो घंटे में 58 प्रजाति के 350 से अधिक पक्षियों को देखा। इसमें माइग्रेटिव पक्षियों की संख्या अधिक थी। उनका मानना था कि अक्तूबर में पक्षियों का आगमन शुरू हो गया है। इस वेटलैंड्स पर पक्षियों की संख्या बड़ी मात्रा में रहेगी। अब इसकी गणना दिसंबर के अंतिम और जनवरी के प्रथम सप्ताह में होगी।

पक्षी वैज्ञानिक डॉ. केपी सिंह ने बताया कि पांच से दस अक्तूबर तक भरतपुर में आयोजित कार्यक्रम में पक्षी वैज्ञानिक शामिल हुए थे। यहां उन्होंने पर्यावरणीय बदलाव, पक्षियों की प्रकृति आदि की जानकारी दी थी। 8, 9 और 10 अक्तूबर को बर्डवॉचर ने सुबह शाढ़े पांच बजे से शाम को साढ़े पांच बजे तक गणना करनी थी। आगरा में आठ अक्तूबर को बर्डवॉचर अंसार खान के निर्देशन में गणना हुई। डॉ. धीरेंद्र देवर्षि, डॉ. प्रमिला गुप्ता, श्याम सुंदर शर्मा, डीडी शर्मा ने दो घंटे में 58 प्रजाति के 350 से अधिक पक्षी देखे। उनका कहना था कि अभी पक्षियों का माइग्रेशन शुरू नहीं हुआ है। तापमान सामान्य से अधिक है। इसके बाद भी समय से पूर्व पक्षियों की अच्छी संख्या है। टीम ने जोधपुर झाल में प्रवासी पक्षियों में ग्रेटर फ्लेमिंगो, ग्रीन-विंग्ड टील, नोर्दन शोवलर, ब्लैक-टेल्ड गोडविट, ग्रीन सेंडपाइपर, बुड सेंडपाइपर, कॉमन रेडशेंक, पेंटेड स्टार्क, यूरेशियन स्पून-बिल, यूरेशियन मार्श हैरियर, रोजी स्टर्लिंग, ब्लूथ्रोट, ग्रे वेगटेल, व्हाइट वेगटेल, व्हाइट ब्राउडेड वेगटेल आदि प्रजाति के पक्षी देखे। पक्षी विशेषज्ञ डॉ. केपी सिंह ने बताया कि दिसंबर के अंतिम सप्ताह और जनवरी के प्रथम सप्ताह में फिर से गणना होगी। उन्होंने बताया कि इस गणना के आधार पर इंग्लैंड की ग्लोबल बर्डिंग संस्था बर्डवॉचर को विश्वभर में रैंक प्रदान करेगी।

संबंधित खबरें