DA Image
28 जनवरी, 2021|6:00|IST

अगली स्टोरी

कृषि विधेयक और निजीकरण का भीम आर्मी ने किया विरोध

default image

केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए कृषि विधेयक व सरकारी उपक्रमों के किए जा रहे निजीकरण के विरोध में भीम आर्मी की जिला इकाई ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट पर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान राष्ट्रपति के नाम पांच सूत्रीय ज्ञापन प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा।

भीम आर्मी भारत एकता मिशन की ओर से सौंपे गए ज्ञापन में राष्ट्रपति से मांग की गई है कि सरकारी संस्थानों, उपक्रमों, विभागों का निजीकरण रोका जाए और किए गए निजीकरण को निरस्त किया जाए। निजी क्षेत्रों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक समुदाय को आनुपातिक प्रतिनिधित्व सुनिश्चित किया जाए, लैटरल एंट्री, आउटसोर्सिंग, संविदा जैसी छात्र विरोधी नीतियों को त्यागकर छात्रों, युवाओं को रोजगार सुनिश्चित किया जाए, सफाई कर्मचारियों की अस्थायी नियुक्तियों को स्थायी नियुक्ति में परिवर्तित किया जाए। वर्तमान सत्र में पास किए गए तीनों किसान विरोध कृषि विधेयकों को निरस्त किया जाए। ज्ञापन देने के दौरान जिलाध्यक्ष विशाल कुमार, जिला उपाध्यक्ष राहुल कुमार, सौरभ सिंह, अनुज सागर, लालू प्रसाद, शैलेंद्र कुमार, अंकुर कौशल, राहुल गौतम, अभिषेक कुमार, रिषभ कुमार सहित अन्य मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bhim Army opposes agriculture bill and privatization