DA Image
30 सितम्बर, 2020|3:53|IST

अगली स्टोरी

किशोरियों को थीम बेस्ड काउंसलिंग से मिलेगी राहत

default image

जिले की किशोरियों की परेशानियां अब थीम बेस्ड काउंसलिंग से दूर होंगी। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले की 3546 किशोरियों को चिह्नित किया गया है। इसके साथ ही महिलाओं की काउंसलिंग भी की जाएगी।

जिसमें कुपोषण, पर्सनल हाइजीन, डिप्रेशन, तनाव, खास दिनों की परेशानियां, करियर आदि को लेकर किशोरियों की समस्याओं को दूर किया जाएगा। इसके लिए पहले माह न्यूट्रीशियन थीम का शुभारंभ किया गया है। जिसमें लेडी लॉयल के कान्फ्रेंस हॉल में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ किशोरियों की काउंसलिंग की शुरुआत की गई है। जिसमें पहले सिर्फ 15 किशोरियों को बुलाया गया है।

लेडी लॉयल के अलावा सामुदायिक केंद्र, आंगनबाड़ी केंद्रों पर स्वास्थ्य विभाग में तैनात काउंसलर्स ने किशोरियों न्यूट्रीशियन के विषय में परामर्श दिया। जिला महिला चिकित्सालय में काउंसलर रूबी बघेल ने बताया कि अस्पताल में काउंसलिंग के बाद अब अर्बन हेल्थ सेंटर एवं सामुदायिक केंद्रों पर भी किशोरियों की काउंसलिंग की है। क्योंकि जिले में काउसंलर की संख्या कम है, तो एक-एक घंटे में पांच से दस किशोरियों की काउंसलिंग करनी है। साथ ही हर सप्ताह का डायट चार्ट भी बनवाया जा रहा है। जिससे प्रतिदिन चेक किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Adolescent girls will get relief from theme based counseling