a worker commit suicide due to debt in Firozabad - शिकोहाबाद में कर्जे से परेशान कर्मचारी ने फांसी लगाकर जान दी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिकोहाबाद में कर्जे से परेशान कर्मचारी ने फांसी लगाकर जान दी

शिकोहाबाद में खेती के कर्जे से परेशान एक चतुर्थश्रेणी कर्मचारी ने कमरे के जंगले में फंदा लगाकर जान दे दी। उसकी बेटी की नौ मार्च को शादी है।

बीआरसी हाथबंत पर तैनात चतुर्थश्रेणी कर्मचारी गिरीश चंद्र (45) पुत्र किशन लाल निवासी बछलई का शव सोमवार की सुबह गांव में एक कमरे के जंगले से टंगा मिला। परिवार में उसकी बड़ी बेटी गौरी की 9 मार्च को शादी है। इसकी तैयारियों में लगातार परिवार लगा था और रिश्तेदारियों में कार्ड बांटे जा रहे थे। उसकी शादी हाथबंत में तय की है।

बड़े बेटे अमित ने बताया कि उसकी पत्नी के हाल ही में पुत्री हुई है इसलिए परिवार के अधिकांश सदस्य फिरोजाबाद के अस्पताल में थे। घर पर बहनें थीं। बेटे का आरोप है कि पिता के ऊपर बैंक का दो लाख का केसीसी का कर्जा था। इसी को लेकर परेशान थे और खेती भी लगातार ओले, बारिश और आलू के सही दाम नहीं मिलने से घाटा दे रही थी।

बछलई में गिरीश के पिता की समाधी बनी है। उस समाधी के पास में कमरा बना है। उसी कमरे के जंगले से लटकर गिरीश ने जान दे दी। परिवार में कोहराम मचा हुआ है। शादी की तैयारियों और बेटे के यहां बेटी के जन्म की खुशियों को मना रहे परिवार में चीखें सुनाई दे रही हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:a worker commit suicide due to debt in Firozabad