Hindi News टॉपिक#लैंड फॉर जॉब स्कैम

#लैंड फॉर जॉब स्कैम

सीबीआई ने आरोप लगाया कि 2004-2009 तक रेल मंत्री रहते हुए लालू यादव ने रेलवे में ग्रुप डी की नौकरी देने के बदले में अपने परिवार के सदस्यों के नाम पर जमीन-जायदाद ट्रांसफर कराए। उम्मीदवारों को आवेदन करने के तीन दिनों के भीतर ही नौकरी दे दी गई। जमीन या पैसे देने के बाद उन्हें नियमित भी कर दिया गया। आरोप है कि पटना के कई लोगों ने लालू यादव के परिवार की एक प्राइवेट कंपनी को बिहार की राजधानी में अपनी जमीन बेच दी या फिर उपहार में दे दी। राबड़ी देवी और उनकी बेटियों मीसा भारती और हेमा यादव के नाम पर जमीन ट्रांसफर किए गए।