DA Image

अगली स्टोरी

Mansa Vacha Karmana Hindustan की खबरें

  • मनुष्य की जो मूलभूत इच्छाएं हैं, उसे अध्यात्म में एषणा कहा जाता है। एषणा को अंग्रेजी में इ्स्टिटन्क्ट या प्रवृत्ति कहा जा सकता है। ये बहुत बुनियादी शक्तियां हैं, जो इच्छा या भावना से गहरी होती हैं।...

    Sun, 09 Sep 2018 11:26 PM IST Mansa Vacha Karmana Mansa Vacha Karmana Hindustan
  • गीता  के दसवें अध्याय में विभूति योग है। उसमें अपनी महिमा बताते हुए श्रीकृष्ण ने पृथ्वी के कुछ उदाहरण दिए हैं और कहा कि उनमें जो सर्वश्रेष्ठ है, वह मैं हूं। उस दौरान वह कहते हैं, जो भी...

    Mon, 26 Mar 2018 12:36 AM IST Mansa Vacha Karmana Mansa Vacha Karmana Hindustan
  • राम के चरित्र को आदि कवि वाल्मीकि और तुलसी ने अपनी रामायण कथा में भारतीय संस्कृति के नैतिक संस्कारों से गढ़ा है। कहा जाता है कि वाल्मीकि के राम महामानव, पौरुष और पुरुषार्थ के प्रतीक हैं, वहां राम...

    Thu, 22 Mar 2018 10:42 PM IST Mansa Vacha Karmana Mansa Vacha Karmana Hindustan
  • वह कल्पना करते और स्वप्न देखते थे। कभी-कभी उनकी कल्पना की उड़ान इतनी तेज होती थी कि खुद ही नहीं समझ पाते कि जो कल्पना वह कर रहे हैं, उसको क्या कभी कला का रूप भी दिया जा सकता है? इसी तरह स्वप्न देखते...

    Sun, 18 Mar 2018 10:54 PM IST Mansa Vacha Karmana Shakuntala Devi Mansa Vacha Karmana Hindustan अन्य...
  • मीटिंग से जब से लौटे हैं, तभी से बेहद चुप हैं। उनकी टीम के काम की खिंचाई हुई। वह उसे दिल पर ले बैठे। ‘अगर हमें गलत ठहराया जा रहा हो, तब भी हर चीज को अपने दिल पर नहीं लेना चाहिए।’ यह मानना...

    Sat, 10 Mar 2018 12:45 AM IST Mansa Vacha Karmana Mansa Vacha Karmana Hindustan
  • रंगों की अपनी भाषा है। अपनी लिपि। अगर दुनिया रंगहीन होती, तो शायद ही इतनी सुंदर होती। इसका सौंदर्य चूक जाता। उन देशों में, जहां हमारी तरह की उत्सवधर्मिता नहीं, वहां भी रंगों का बोलबाला है। वहां भी...

    Thu, 01 Mar 2018 09:16 PM IST Praveen Kumar Mansa Vacha Karmana Mansa Vacha Karmana Hindustan अन्य...
  • समत्व बुद्धि क्या है? हमारे जीवन में जितनी भी समस्याएं हैं, वे असंतुलन के कारण हैं। मन के लिए सम और संतुलित होना बहुत कठिन है। समत्व का मायने है, बीच में ठहर जाना। न इस छोर, और न उस छोर। लेकिन मन है...

    Sun, 25 Feb 2018 09:46 PM IST Amrit Sadhana Mansa Vacha Karmana Mansa Vacha Karmana Column अन्य...
  • कितने अरमानों से इस प्रोजेक्ट को शुरू किया था उन्होंने। शुरुआत भी अच्छी ही हुई थी। लेकिन उनकी उम्मीदें पूरी नहीं हो पाईं। ‘उम्मीद भर कर लेने से बात नहीं बनती। उम्मीदें पूरी करने के लिए बहुत कुछ...

    Fri, 23 Feb 2018 10:32 PM IST Mansa Vacha Karmana Rajeev Katara Mansa Vacha Karmana Column अन्य...
  • 1
  • of
  • 1

इंटर के बाद क्या करोगे

फूफा जी: बेटा इंटर के बाद आगे क्या करोगे..

भतीजा: बीटेक के लिए फॉर्म डाल रहा हूं, देखो क्या होता है..

फूफा जी: अगर रैंक अच्छी नहीं आई तो..

भतीजा: तो फिर कहीं से सिंपल ग्रेजुएशन कर लेंगे..

फूफा जी: अच्छा मान लो इंटर में बाई चांस लटक गए तो?

भतीजा: तो फिर एक मर्डर करेंगे, एक रिश्तेदार का.. हमारी कुण्डली में लिखा है..