DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

BWF विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पीवी सिंधु, कहा- अभी तक संतुष्ट नहीं हूं

पीवी सिंधु का अब खिताब के लिए अपनी कट्टर प्रतिद्वंद्वी और विश्व की चौथे नंबर की खिलाड़ी जापान की नोजोमी ओकुहारा से मुकाबला होगा। सिंधु का ओकुहारा के खिलाफ 8-7 का करियर रिकॉर्ड है।

pv sindhu  reuters

दो बार की रजत पदकधारी पी वी सिंधु (PV Sindhu) ने भले ही लगातार तीसरी बार विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में प्रवेश कर लिया हो, लेकिन यह शीर्ष भारतीय खिलाड़ी अभी तक संतुष्ट नहीं है क्योंकि उनकी निगाहें इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के स्वर्ण पदक पर लगी हैं। सिंधु ने सेमीफाइनल में दुनिया की तीसरे नंबर की खिलाड़ी और आल इंग्लैंड चैंपियन चेन यु फेई पर सीधे गेम में 21-7 21-14 से शिकस्त दी और लगातार तीसरे फाइनल में जगह बनाई। 

सिंधु ने पत्रकारों से कहा, ''खुद को केंद्रित रखना अहम है। अभी मेरे लिए यह खत्म नहीं हुआ है। हां, मैं खुश हूं लेकिन अभी संतुष्ट नहीं हूं। अभी एक और मैच बाकी है और मैं स्वर्ण पदक जीतना चाहूंगी।'' उन्होंने कहा, ''यह इतना आसान नहीं होगा। मुझे ध्यान लगाए रखना होगा, संयम रखना होग और फाइनल में अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा।''

BWF WC 2019: सेमीफाइनल में हारकर भी इतिहास रच गए बी साई प्रणीत

सेमीफाइनल में अपने प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, ''मैं अच्छी तरह तैयार थी और शुरू से मैं बढ़त बनाए थी और अंत में जीत हासिल करने में सफल रही।''      फाइनल में वह जापान की नोजोमी ओकुहारा और से भिड़ेंगी। उन्होंने कहा, ''दोनों अच्छा खेल रही हैं। मैं बस उम्मीद लगाए हूं कि यह अच्छा मैच हो। कुछ भी हो सकता है। मुझे ध्यान केंद्रित रखना होगा और अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा।''

बता दें कि भारतीय स्टार पीवी सिंधु ने शनिवार को यहां ऑल इंग्लैंड चैम्पियन चेन यु फेई पर सीधे गेम में मिली जीत से लगातार तीसरे फाइनल में प्रवेश किया, जिससे वह विश्व चैंपियनशिप का स्वर्ण पदक जीतने से महज एक कदम दूर हैं। सिंधु ने इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के पिछले दो चरण में लगातार रजत पदक हासिल किए, इसके अलावा उनके नाम दो कांस्य पदक भी हैं। 

नेशनल डोप टेस्टिंग लैब निलंबित, किरेन रिजिजू बोले- भारत करेगा अपील

विश्व चैंपियनशिप में 2017 और 2018 में रजत पदक, 2013 और 2014 में कांस्य पदक जीत चुकी सिंधु को पिछले आठ महीने से एक अदद खिताब की तलाश है। सिंधु ने पिछले साल के आखिर में वर्ल्ड टूर फाइनल्स में खिताब जीता था और वह उसके बाद अपने पहले खिताब की तलाश में हैं।

नोजोमी ओकुहारा से होगा सिंधु का मुकाबला         
सिंधु का अब खिताब के लिए अपनी कट्टर प्रतिद्वंद्वी और विश्व की चौथे नंबर की खिलाड़ी जापान की नोजोमी ओकुहारा से मुकाबला होगा, जिन्होंने अन्य सेमीफाइनल में थाईलैंड की रत्चानोक इंतानोन को एक घंटे 23 मिनट के संघर्ष में 17-21, 21-18, 21-15 से हराया। सिंधु का ओकुहारा के खिलाफ 8-7 का करियर रिकॉर्ड है। इस साल दोनों खिलाड़ियों ने एक-दूसरे के खिलाफ एक-एक मैच जीता है। सिंधु ने पिछले साल विश्व चैंपियनशिप में ओकुहारा को हराया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:World Badminton Championships 2019 PV Sindhu and Nozomi Okuhara enter final indian shuttler says I am not satisfied yet