DA Image
हिंदी न्यूज़ › खेल › विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप: महिला वर्ग में सभी की नजरें विनेश फोगाट पर
खेल

विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप: महिला वर्ग में सभी की नजरें विनेश फोगाट पर

एजेंसी,नूर-सुल्तान (कजाकिस्तान)Published By: Mridula
Tue, 17 Sep 2019 10:47 AM
विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप: महिला वर्ग में सभी की नजरें विनेश फोगाट पर

एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता और भारत के लिए पदक की सबसे बड़ी दावेदार विनेश फोगाट यहां जारी विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप में मंगलवार को अपने अभियान की शुरुआत करेंगी। 25 साल की विनेश 50 किग्रा से अब 53 किग्रा भार वर्ग में रिंग में उतरती हैं। विनेश ने यासर डागु, पोलैंड ओपन और स्पेन ओपन में स्वर्ण पदक जीते हैं। एशियाई चैम्पियनशिप की कांस्य पदक विजेता विनेश इसके अलावा डान कोलोव और मेदवेद इंटरनेशनल टूर्नामेंट में भी रजत पदक अपने नाम कर चुकी हैं। 

विनेश के सामने अपने पहले दौर में ओलंपिक कांस्य पदक विजेता सोफिया मैटसन की चुनौती होगी। विनेश अगर सोफिया को हरा देती हैं तो वह फिर अगले दौर में विश्व में नंबर दो और मौजूदा विश्व चैंपियन मायु मुकैदा से भिड़ सकती हैं। इसके बाद वह क्वार्टर फाइनल में वर्ल्ड नंबर एक पिछली बार की उप विजेता सराह एन हिल्डरब्रांट के खिलाफ रिंग में उतर सकती हैं। 

Tennis : फेडरर को पहले सेट में हराने वाले सुमित नागल करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर

50 किग्रा भार वर्ग में दूसरी सीड सीमा बिस्ला सीधा प्री क्वार्टर फाइनल में उतरेंगी। वह नाईजीरिया की मिसनेई मर्सी जेनेसिस और अजरबेजान की मारिया स्टैडनिक के बीच होने वाले क्वॉलिफिकेशन मुकाबले की विजेता से भिड़ेंगी। 55 किग्रा में राष्ट्रमंडल खेलों की पूर्व विजेता एशियाई चैम्पियनशिन की कांस्य पदक विजेता ललिता सहरावत मंगोलिया की बाट ओचिर से भिड़ेंगी और यहां जीतने के बाद वह तीसरी सीड अमेरिका की जकारा विंसेस्टर का सामना करेगी। 72 किग्रा में कोमल भगवान तुर्की की बेस्टे अलतुग की चुनौती से पार पाने उतरेंगी। 

विनेश के निजी कोच वोलेर अकोस ने कहा, ''अगर आप विश्व चैंपियन बनना चाहते हो तो आपको सर्वश्रेष्ठ को हराना होगा। फिर डर काहे का।'' भारत के राष्ट्रीय कोच कुलदीप मलिक भी थोड़ा तनाव में दिखे लेकिन फिर वे भी वह आशान्वित हैं। उन्होंने कहा, ''जब भी उसे कड़ा ड्रॉ मिला उसने पदक जीता। देखते हैं क्या होता है।''

बैडमिंटन: विश्व खिताब के बाद सिंधु की नजरें चीन ओपन खिताब पर

भारत के विदेशी कोच एंड्रयू कुक का मानना है कि शुरू में कड़ी प्रतिद्वंद्वियों का सामना करने से विनेश के पदक दौर में पहुंचने की संभावना बढ़ जाएगी।

संबंधित खबरें