फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ खेलइस टीशर्ट को पहनने की वजह से पत्रकार को स्टेडियम में घुसने से रोका, सिक्योरिटी ने फोन भी छीना

इस टीशर्ट को पहनने की वजह से पत्रकार को स्टेडियम में घुसने से रोका, सिक्योरिटी ने फोन भी छीना

एलजीबीटीक्यू समुदाय के समर्थन में रेनवो टीशर्ट पहनने की वजह से अमेरिका के एक पत्रकार को कतर में फीफा वर्ल्ड कप के लिए एक स्टेडियम में घुसने नहीं दिया। उनको हिरासत में लिया गया और फोन भी छीना।

इस टीशर्ट को पहनने की वजह से पत्रकार को स्टेडियम में घुसने से रोका, सिक्योरिटी ने फोन भी छीना
Vikash Gaurएजेंसी, रायटर्स,नई दिल्लीTue, 22 Nov 2022 07:55 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

एक अमेरिकी पत्रकार को सोमवार को थोड़ी देर के लिए कतर में फुटबॉल विश्व कप मैच से पहले हिरासत में ले लिया गया, क्योंकि उन्होंने एक ऐसा टी शर्ट पहनी हुई थी, जिसमें वह एलजीबीटीक्यू समुदाय का समर्थन कर रहे थे। इस पर अमेरिकी पत्रकार ने कहा कि उन्हें सोमवार को उस समय थोड़ी देर के लिए हिरासत में लिया गया जब वह कतर में एक विश्व कप स्टेडियम में एलजीबीटीक्यू समुदाय के समर्थन में एक रेनवो टीशर्ट पहनकर प्रवेश करने की कोशिश की, जहां समलैंगिक संबंध अवैध हैं।

स्पोर्ट्स इलस्ट्रेटेड के पूर्व पत्रकार ग्रांट वाहल, जिनकी अब अपनी खुद की वेबसाइट है, उन्होंने कहा कि विश्व कप सुरक्षा से जुड़े लोगों ने उन्हें अल रेयान के अहमद बिन अली स्टेडियम में वेल्स के खिलाफ संयुक्त राज्य अमेरिका के ओपनिंग गेम में प्रवेश से वंचित कर दिया था और उन्हें अपनी शर्ट उतारने के लिए कहा था। उन्होंने ये भी बताया कि जब उन्होंने घटना के बारे में ट्वीट किया तो उनका फोन भी छीन लिया गया।

वाहल ने ट्विटर पर लिखा, "मैं ठीक हूं, लेकिन वह एक अनावश्यक प्रक्रिया थी।" उन्होंने कहा कि एक सिक्योरिटी कमांडर ने बाद में उनसे संपर्क किया, माफी मांगी और उन्हें कार्यक्रम स्थल में जाने दिया। बाद में उन्हें फुटबॉल की अंतरराष्ट्रीय शासी निकाय फीफा के एक प्रतिनिधि से माफी भी मिली। ऐसा खुद ग्रांट वाहल ने दावा किया है। इससे पहले एक और विवाद सामने आया था, जब ईरान की फुटबॉल टीम ने अपना राष्ट्रगान नहीं गाया था।