अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतना चैलेंज होगाः सरदार सिंह

Sardar Singh

भारत को 2014 में एशियाई खेलों का गोल्ड मेडल दिलाकर सीधे रियो ओलंपिक के लिए क्वॉलीफाई कराने वाले पूर्व कप्तान और स्टार मिडफील्डर सरदार सिंह ने शुक्रवार को कहा कि इंडोनेशिया एशियाई खेलों में इस बार गोल्ड मेडल जीतना एक चैलेंज होगा। उन्होंने कहा कि टीम भले ही एशियाई खेलों की सबसे मजबूत टीम के रूप में उतर रहा हो, लेकिन टीम को वहां अपना बेस्ट देना होगा।

सरदार ने कहा, 'भारत एशियाई खेलों में सबसे मजबूत टीम के रूप में उतर रहा है। लेकिन हमें मैदान पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की जरूरत रहेगी। यहां गोल्ड मेडल जीतकर टोक्यो ओलंपिक के लिए सीधे क्वॉलीफाई करना एक बड़ी चुनौती रहेगी।' पूर्व कप्तान ने कहा, 'हमने हाल में कोरिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज और एफआईएच चैंपियंस ट्रॉफी में अच्छा परिणाम दिया था। लेकिन सुधार की हमेशा गुंजाइश रहती है। कुछ कमियां हैं जिनपर हम अपने कैंप में काम कर रहे हैं और उन्हें दूर कर लेंगे।'

मिडफील्डर ने कहा,' खिलाड़ी एशियाई खेलों को लेकर बेहद रोमांचित हैं। कोच ने हमें जो काम दिए हैं अगर हम उन्हें अच्छी तरह पूरा करते हैं और हमारे बेसिक्स ठीक रहते हैं तो हम एशियाई टीमों को अच्छे अंतर से हरा सकते हैं।' चैंपियंस ट्रॉफी के सिल्वर मेडल और उससे एशियाई खेलों के लिए मनोबल मजबूत होने के बारे में पूछने पर सरदार ने कहा,' चैंपियंस ट्रॉफी में हम सभी का लक्ष्य गोल्ड मेडल जीतना था और फाइनल हारने के बाद हम ज्यादा रोमांचित नहीं थे क्योंकि हमने लक्ष्य हासिल नहीं किया था। इस टूर्नामेंट में हमने विश्व की बड़ी टीमों को हराया था जिससे खिलाड़यिों का मनोबल बढ़ा है। एशियाई खेल नया टूूर्नामेंट है और हर टीम मजबूती के साथ उतरेगी इसलिए हम किसी भी टीम को हल्के में नहीं लेंगे।'

कोच हरेंद्र सिंह के टीम पर असर के बारे में सरदार ने कहा, 'टीम में लड़ने का जज्बा और समन्वय काफी बेहतर हो चुका है। ये आपने मैदान पर देखा होगा। भारतीय टीम के साथ अब एक भारतीय कोच है। मैं उन्हें 10-15 साल से जानता हूं। वो भी जानते हैं कि सरदार की ताकत और कमजोरी क्या है। हम सभी के संबंध बहुत अच्छे हैं। उन्होंने मुझे जिम्मेदारी दी है और मैं हमेशा ये पसंद करता हूं। सीनियर होने के नाते मेरा काम युवा खिलाड़यिों का मार्गदर्शन करना है और इसी बात से मुझे आत्मविश्वास मिलता है।'

HOCKEY: भारतीय कोच होने से टीम को मिला बड़ा फायदा, जानिए कैसे

Chinese Super League: डेम्बा बा पर नस्लभेदी टिप्पणी करने वाले खिलाड़ी पर लगा प्रतिबंध

ओड़िशा में नवंबर-दिसंबर में होने वाले विश्वकप के लिये सरदार ने कहा, 'इस साल हमें एशियाई खेलों के बाद विश्वकप खेलना है जो बहुत अहम है। फिलहाल हमारा ध्यान एशियाई खेलों में स्वर्ण जीतने पर है जिसके बाद हम विश्वकप की तैयारी करेंगे।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:to win gold in asian games will be a challenge for us says sardar singh