फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ खेलCWG गोल्ड मेडलिस्ट पीवी सिंधु चोट के कारण विश्व चैंपियनशिप से हुईं बाहर, ट्वीट करके बताई वजह

CWG गोल्ड मेडलिस्ट पीवी सिंधु चोट के कारण विश्व चैंपियनशिप से हुईं बाहर, ट्वीट करके बताई वजह

दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु चोट के कारण इस साल बैडमिंटन विश्व चैंपियनशिप के संस्करण से बाहर हो जाएंगी। सिंधु ने ट्वीट के जरिए इसकी पुष्टि की है।

CWG गोल्ड मेडलिस्ट पीवी सिंधु चोट के कारण विश्व चैंपियनशिप से हुईं बाहर, ट्वीट करके बताई वजह
Himanshu Singhएजेंसी,नई दिल्लीSat, 13 Aug 2022 09:27 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

पूर्व विश्व चैंपियन और भारत की शीर्ष शटलर पुसरला वेंकट सिंधु बाएं पैर में स्ट्रेस फ्रैक्चर होने के कारण विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप से बाहर हो गयी हैं। स्पोर्टस्टार ने शनिवार को जारी रिपोर्ट में सिंधु के पिता पीवी रमन के हवाले से कहा कि दो बार की ओलंपिक मेडलिस्ट को बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के क्वार्टरफाइनल में चोट आयी थी। 

उन्होंने बताया कि सिंधु ने चोट के बावजूद सेमीफाइनल मुकाबला खेला और अंतत: राष्ट्रमंडल स्वर्ण जीता। 27 वर्षीय सिंधु ने विश्व चैंपियनशिप में एक स्वर्ण सहित पांच पदक जीते हैं। अब उन्हें पूरी तरह ठीक होने तक निगरानी में रखा जाएगा। 

रमन ने स्पोर्टस्टार से कहा, ''सिंगापुर ओपन और राष्ट्रमंडल खेल जीतने के बाद विश्व चैंपियनशिप छूटना निराशाजनक है, लेकिन यह सब चीजें हमारे हाथ में नहीं हैं।''

उन्होंने कहा, ''हमारा ध्यान उनके ठीक होने पर होगा, और हम अक्टूबर में होने वाले डेनमार्क और पेरिस ओपन को लक्षित करेंगे।'' गौरतलब है कि सिंधु ने हाल ही में महिला एकल का अपना पहला राष्ट्रमंडल स्वर्ण जीता। इससे पहले वह 2014 (कांस्य) और 2018 (रजत) में भी पदक जीता था। 

बैलोन डिओर पुरस्कार के लिए जारी शार्टलिस्ट में लियोनल मेसी को नहीं मिली जगह, 17 साल में पहली बार हुए बाहर

सिंधु ने ट्वीट करके लिखा, ''जबकि मैं भारत के लिए राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद शिखर पर हूं, दुर्भाग्य से मुझे विश्व चैंपियनशिप से हटना पड़ा। मुझे दर्द महसूस हुआ और राष्ट्रमंडल खेलों के क्वार्टर फाइनल में चोट लगने की आशंका थी, लेकिन अपने कोच, फिजियो और ट्रेनर की मदद से मैंने जितना हो सके आगे बढ़ने का फैसला किया।''

उन्होंने आगे लिखा, ''फाइनल के दौरान और उसके बाद का दर्द असहनीय था। इसलिए जैसे ही मैं हैदराबाद वापस आई, मैं एमआरआई के लिए गई। डॉक्टरों ने मेरे बाएं पैर में स्ट्रेस फ्रैक्चर की पुष्टि की और कुछ हफ्तों के लिए आराम करने की सलाह दी। मुझे कुछ हफ्तों में ट्रेनिंग पर वापस आ जाना चाहिए। प्यार और सपोर्ट के लिए धन्यवाद।''

epaper