DA Image
3 दिसंबर, 2020|12:55|IST

अगली स्टोरी

खेल मंत्री किरेन रीजिजू ने 74 खिलाड़ियों को खेल पुरस्कार देने के फैसला का किया बचाव

 kiren rijiju  vipin kumar ht photo

खेल मंत्री किरेन रीजिजू ने शनिवार को सरकार के इस साल पांच राजीव गांधी खेल रत्न सहित रिकॉर्ड 74 खिलाड़ियों को राष्ट्रीय खेल पुरस्कार से सम्मानित करने के फैसले का बचाव किया जिसकी कड़ी आलोचना हो रही है। खेल मंत्रालय की चयन समिति ने इस साल स्टार क्रिकेटर रोहित शर्मा और पहलवान विनेश फोगाट सहित पांच खिलाड़ियों को खेल रत्न जबकि 27 खिलाड़ियों को अर्जुन पुरस्कार के लिए चुना।

अर्जुन अवॉर्ड मिलने के बाद ईशांत शर्मा ने बताया, कब लेंगे खेल से संन्यास

मंत्रालय ने द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए 13 और ध्यानचंद पुरस्कारों के लिए 15 कोचों का चयन किया। रीजिजू ने शनिवार को कहा कि हमारे खिलाड़ियों का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन बेहतर हुआ है। जब हमारे खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करते हैं तो उन्हें सराहा और पुरस्कृत किया जाना चाहिए। अगर सरकार उनकी उपलब्धियों को सम्मानित नहीं करती तो इससे भारत की उभरती हुई खेल प्रतिभाओं का उत्साह कम होगा।

डकैतों के हमले में क्रिक्रेटर रैना के रिश्तेदार की मौत, IPL छोड़ लौटे

उन्होंने कहा कि इसलिए पिछले सालों की तुलना में भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा जिसके कारण पुरस्कार विजेताओं की संख्या भी बढ़ी। खेल मंत्री ने कहा कि उनके मंत्रालय ने खेल पुरस्कारों पर फैसला नहीं किया क्योंकि विजेताओं का चयन उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश की अध्यक्षता में स्वंतत्र समिति ने किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sports Minister Kiren Rijiju defended decision to award Sports Awards to 74 players