फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ खेलसानिया मिर्जा को संन्यास के ऐलान पर हो रहा पछतावा, कहा- बहुत जल्द घोषणा कर दी; क्या संन्यास के फैसले पर लेंगी यू-टर्न?

सानिया मिर्जा को संन्यास के ऐलान पर हो रहा पछतावा, कहा- बहुत जल्द घोषणा कर दी; क्या संन्यास के फैसले पर लेंगी यू-टर्न?

सानिया मिर्जा ने हाल में घोषणा की थी कि 2022 उनका आखिरी सत्र होगा, लेकिन अब इस भारतीय टेनिस स्टार ने कहा है कि उन्होंने बहुत जल्द घोषणा कर दी और उन्हें इस पर 'पछतावा' है क्योंकि उनसे हर समय...

सानिया मिर्जा को संन्यास के ऐलान पर हो रहा पछतावा, कहा- बहुत जल्द घोषणा कर दी; क्या संन्यास के फैसले पर लेंगी यू-टर्न?
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीTue, 25 Jan 2022 11:10 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

सानिया मिर्जा ने हाल में घोषणा की थी कि 2022 उनका आखिरी सत्र होगा, लेकिन अब इस भारतीय टेनिस स्टार ने कहा है कि उन्होंने बहुत जल्द घोषणा कर दी और उन्हें इस पर 'पछतावा' है क्योंकि उनसे हर समय इसी के बारे में पूछा जा रहा था। सानिया का मिश्रित युगल में हार के साथ ही ऑस्ट्रेलियन ओपन में भी सफर समाप्त हो गया। सानिया से पूछा गया कि यह उनका आखिरी सत्र होगा तो क्या इससे टेनिस और टूर के प्रति उनका नजरिया बदल गया है, उन्होंने कहा, ''ईमानदारी से कहूं तो मैं प्रत्येक मैच में इस बारे में नहीं सोच रही थी। सच में मुझे लगता है कि मैंने बहुत जल्दी घोषणा कर दी और मुझे इस पर पछतावा हो रहा है क्योंकि अब मुझसे केवल इसी बारे में पूछा जा रहा है।''

 

 

 

भारत की सबसे सफल महिला टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा सोनी स्पोर्ट्स नेटवर्क के 'एक्स्ट्रा सर्व' कार्यक्रम में बोल रही थी। सानिया के नाम पर छह ग्रैंडस्लैम खिताब हैं जिनमें तीन मिश्रित युगल खिताब भी शामिल हैं।

हैदराबाद की रहने वाली सानिया ने कहा कि वह मैच जीतने के लिये टेनिस खेलती है। उन्होंने कहा, ''मैं मैच जीतने के लिये टेनिस खेल रही हूं और जब तक मैं खेलूंगी तब तक प्रत्येक मैच जीतने की कोशिश करूंगी इसलिए यह (संन्यास) ऐसी चीज नहीं है जो हमेशा मेरे दिमाग में रहती है।''

 

 

 

सानिया ने कहा, ''मुझे टेनिस खेलने में मजा आता है, मैंने हमेशा इसका लुत्फ उठाया है फिर जीत मिले या हार। मेरा रवैया अब भी वैसा ही है। मैं अपना शत प्रतिशत देती हूं। कभी-कभी यह काम करता है, कभी-कभी ऐसा नहीं होता है लेकिन मैं साल में आगे भी अपना शत प्रतिशत देना चाहती हूं और मैं यह नहीं सोचना चाहती कि साल के आखिर में क्या होने वाला है।''

 

 

 

 

सानिया ने अमेरिका के राजीव राम के साथ जोड़ी बनायी थी। उन्हें जेमी फोरलिस और जैसन कुबलर की स्थानीय जोड़ी से हार का सामना करना पड़ा। 
इस मैच के बारे में सानिया ने कहा, ''ऐसा होता है, कभी आपका दिन नहीं होता है जब ग्रैंडस्लैम में ऐसा होता है तो यह दुर्भाग्यपूर्ण होता है।''

epaper