DA Image
Sunday, November 28, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ खेलभारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच ने बताया, सैफ चैंपियनशिप जीतने के बाद क्या है टीम का अगला लक्ष्य

भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच ने बताया, सैफ चैंपियनशिप जीतने के बाद क्या है टीम का अगला लक्ष्य

एजेंसी ,नई दिल्ली Ezaz Ahmad
Tue, 19 Oct 2021 04:01 PM
भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच ने बताया, सैफ चैंपियनशिप जीतने के बाद क्या है टीम का अगला लक्ष्य

भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच इगोर स्टीमाक ने कहा है कि भारत का आठवीं बार सैफ चैंपियनशिप जीतना 'विशेष सफलता' नहीं है क्योंकि देश का दक्षिण एशियाई क्षेत्र में दबदबा है और उनका लक्ष्य 2023 एशियाई कप क्वालीफिकेशन में अच्छा प्रदर्शन करना है। भारत ने शनिवार को माले में फाइनल में नेपाल को 3-0 से हराकर क्षेत्रीय टूर्नामेंट का खिताब जीता जो टीम के कोच के रूप में स्टीमाक का पहला खिताब है। स्टीमाक ने मंगलवार को मीडिया के साथ वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में बातचीत के दौरान कहा, ' मैं इसे (सैफ खिताब) विशेष सफलता नहीं मानता क्योंकि भारत का सैफ टूर्नामेंट जीतना सामान्य चीज है, लेकिन यह दिखाता है कि इस प्रतियोगिता में हमारा दबदबा है और हम अपने खेल में काफी सुधार कर सकते हैं।' 

स्टीमाक ने हालांकि स्वीकार किया कि शुरुआती दो राउंड रोबिन मैचों में बांग्लादेश (1-1) और श्रीलंका (0-0) के खिलाफ ड्रॉ खेलने के बाद उनकी टीम पर नतीजा देने का काफी दबाव था। इन शुरुआती मैचों के नतीजों से भारत पर फाइनल की दौड़ से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा था। भारत ने इसके बाद करो या मरो के मुकाबले में नेपाल को 1-0 और मेजबान मालदीव को 3-1 से हराया और फिर फाइनल में जीत दर्ज की।

स्टीमाक ने कहा, ' बेशक पहले दो मैचों के बाद हम मुश्किल स्थिति में थे लेकिन चीजें खराब सिर्फ नतीजों के कारण लग रही थी। हमारे रवैये, गोल की तरफ शॉट, गोल करने के मौकों, मूवमेंट और खिलाड़ियों की उर्जा में कोई बदलाव नहीं आया। हम कभी गोल करते हैं और कभी नहीं कर पाते और इससे अंतर पैदा होता है। इसलिए हमारे कंधों पर नतीजा देने का दबाव था लेकिन हम इससे निपटने में सफल रहे और अंत में हम ट्रॉफी जीतने में सफल रहे जो सबसे महत्वपूर्ण है।'

मालदीव से लौटने के बाद स्टीमाक बेंगलुरु में हैं और मंगलवार रात वह अंडर-23 राष्ट्रीय टीम के साथ दुबई रवाना हो रहे हैं। यूएई में 25 से 31 अक्टूबर तक टीम को 2022 एशियाई अंडर-23 चैंपियनशिप क्वालीफायर में हिस्सा लेना है। क्रोएशिया के इस कोच ने कहा कि टीम का लक्ष्य 2023 एशियाई कप के लिए क्वालीफाई करना है जिसके क्वालीफायर का तीसरा दौर अगले साल फरवरी की शुरुआत में शुरू होगा।

भारतीय फुटबॉल टीम ने 8वीं बार जीती सैफ चैंपियनशिप, सुनील छेत्री ने की लियोनेल मेसी की बराबरी

एशियाई कप क्वालीफिकेशन मैचों के दौरान स्थिति अजीब होगी क्योंकि ये मुकाबले फीफा की अंतरराष्ट्रीय मैचों की विंडो के इतर होंगे और महासंघ को इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के आयोजकों और क्लबों को राष्ट्रीय टीम में शामिल खिलाड़ियों को रिलीज करने के लिए मनाने की जरूरत है। स्टीमाक ने कहा, ' हमें नहीं पता कि हमें किसके साथ भिड़ना है, हमें अब तक अपने ग्रुप के बारे में नहीं पता। हमें तैयारी करनी होगी क्योंकि हमें बताया गया है कि हमारा पहला मैच एक फरवरी को होगा। अगर हमें इस क्वालीफायर में सफल होना है जिसके मुकाबले फीफा की विंडो के इतर होंगे तो हमें घरेलू प्रतियोगिताओं (आईएसएल) के अन्य हितधारकों के साथ बैठना होगा और देखना होगा कि राष्ट्रीय टीम के खिलाड़ियों को तैयारी के लिए कितना समय मिलेगा।'

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें