Russia faces new Olympics ban over doping - रूस पर 2020 ओलंपिक में भाग लेने से लग सकता है बैन, जाने क्यों DA Image
14 नबम्बर, 2019|3:39|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रूस पर 2020 ओलंपिक में भाग लेने से लग सकता है बैन, जाने क्यों

अगस्त में ड्रग टेस्ट में फेल होने के बाद उन्हें निलंबित किया था, लेकिन इस मामले पर आखिरी फैसला आना बाकी है।

 reuters christinne muschi file photo

रूस पर कथित तौर पर हाई जंपर के खिलाड़ी डेनिल लिसेंको पर लगे डोपिंग के आरोप को छुपाने के कारण 2020 के टोक्यो ओलंपिक खेलों में भाग लेने से प्रतिबंध लग सकता है। 

अगस्त में ड्रग टेस्ट में फेल होने के बाद उन्हें निलंबित किया था, लेकिन इस मामले पर आखिरी फैसला आना बाकी है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रूस के अधिकारियों पर आरोप है कि वे प्रतिबंध से बचने के लिए लिसेंको की सहायता कर रहे हैं तथा उनके डोपिंग उल्लंघन को छिपाने के लिए इन लोगों ने नकली दस्तावेज भी बनाए है।   

रेप का आरोप लगने के बाद फुटबॉलर नेमार ने दी ये सफाई

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2015 में  विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) ने रूस पर डोपिंग रोधी नियमों के कई उल्लंघनों का आरोप लगाया था, जिसके कारण रूसी एथलीटों के खिलाफ प्रतिबंधों को लागू किया गया था। इसमें उनके वर्ष 2016 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक के कुछ पदक छीनना और वर्ष 2018 के शीतकालीन ओलंपिक से पहले रूसी राष्ट्रीय टीम पर प्रतिबंध लगाना शामिल है। 

हालांकि, रूस के अधिकारियों ने इन आरोपों को खारिज किया लेकिन यह स्वीकार किया कि डोपिंग उल्लंघन के कुछ मामले सामने आए थे। 

FRENCH OPEN: टूर्नामेंट से बाहर होने के बाद सेरेना विलियम्स के भविष्य पर सवाल

पिछले वर्ष 20 सितंबर को वाडा कार्यकारी समिति ने बहुमत से रूसी डोपिंग रोधी एजेंसी (रूसाडा) को एक ऐसे संगठन के रूप में मान्यता देने का फैसला किया जो विश्व डोपिंग रोधी संहिता का अनुपालन करता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Russia faces new Olympics ban over doping