DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

WIMBLEDON: रोजर फेडरर को नोवाक जोकोविच के हाथों बेहद करीबी हार का है मलाल

रोजर फेडरर ने कहा कि उन्हें यकीन ही नहीं हो रहा कि उन्होंने दो मैच प्वाइंट गंवा दिए जिसकी वजह से नौवां विम्बलडन खिताब नहीं जीत सके।

roger federer jpg

रोजर फेडरर ने कहा कि उन्हें यकीन ही नहीं हो रहा कि उन्होंने दो मैच प्वाइंट गंवा दिए जिसकी वजह से नौवां विम्बलडन खिताब नहीं जीत सके। नोवाक जोकोविच ने सबसे लंबे चले पुरूष एकल फाइनल में फेडरर को 7-6, 1 -6, 7-6, 6-4, 13-12 से हराया। हार के बाद काफी भावुक हुए फेडरर ने कहा कि वह सीधे सेटों में हार जाते तो इतना बुरा नहीं लगता। उन्होंने कहा,'क्या कहूं। मुझे नहीं पता कि सीधे सेटों में हारना इससे बेहतर होता। लेकिन अब इसके क्या मायने हैं। मैं नहीं कह सकता कि निराश हूं, दुखी या नाराज। मैंने शानदार मौका गंवा दिया। मुझे यकीन ही नहीं हो रहा।

Read Also: Wimbledon 2019: रोजर फेडरर को हराकर जोकोविक बने विंबलडन के बादशाह

'मैं सीधे सेटों में हार जाता तो इतना नहीं अखरता' 
फेडरर ने कहा ,'आप अच्छी बातें लेने की कोशिश करते हैं। आप हमेशा बेहतर सोचते हैं। यह इतना करीबी मुकाबला था और ऐसे अंक लेना आसान नहीं होता।' फेडरर ने इस चैम्पियनशिप में 100 मैच और ग्रैंडस्लैम में 350 मैच पूरे किए लेकिन उन्होंने कहा कि वह रिकॉर्ड के लिए नहीं खेलते। उन्होंने कहा,'मैं इसके लिए टेनिस नहीं खेलता। मैं विम्बलडन जीतना चाहता था। इतने शानदार दर्शकों के सामने और नोवाक जैसे खिलाड़ी से। मैं इसी के लिए खेलता हूं।' नोवाक जोकोविच ने विंबलडन खिताब जीतने के बाद कहा कि वह रोजर फेडरर का काफी सम्मान करते हैं और हर मुकाबले के बाद उनसे प्रेरणा लेते हैं।

सभी खेलों से जुड़े समाचार पढ़ें सबसे पहले Live Hindustan पर। अपने मोबाइल पर Live Hindustan पढ़ने के लिए डाउनलोड करें हमारा न्यूज एप। और देश-दुनिया की हर खबर से रहें अपडेट।    

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Roger Federer says he still can not believe that he lost match point against Novak Djokovic