DA Image
27 फरवरी, 2020|5:54|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रितु फोगाट बोलीं, विनेश पूरा कर सकती हैं ओलम्पिक पदक का सपना

vinesh phogat ritu phogat

कुश्ती से मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में कदम रख चुकीं महिला पहलवान रितु फोगाट को ओलम्पिक पदक न जीत पाने का मलाल है लेकिन उनका मानना है कि फोगाट परिवार का ओलम्पिक पदक जीतने का सपना विनेश पूरा कर सकती हैं। भारतीय कुश्ती में फोगाट बहनों का बड़ा नाम है और उन्होंने अपनी कामयाबियों से देश का नाम रोशन किया है। रितु महिला कुश्ती से अब मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में कदम रख चुकीं हैं और इस कॉम्बैट खेल में उनका सपना विश्व चैंपियन बनने का है। रितु ने बुधवार को यहां नेशनल स्पोर्ट्स क्लब में वन चैम्पियनशिप किंग ऑफ द जंगल के लिए अपनी तैयारियों का प्रदर्शन किया। उनकी तैयारियां देखने के लिए भारी संख्या में प्रशंसक और मीडियाकर्मी मौजूद थे। उनके कोच पिता महावीर फोगाट भी इस अवसर पर मौजूद थे।

वर्ष 2016 में राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक और अंडर 23 विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने वाली रितु ने अपने नए खेल और पुराने खेल कुश्ती पर बातचीत करते हुए कहा कि उन्हें इस बात का अफ़सोस रहेगा कि वह ओलम्पिक पदक नहीं जीत पायीं लेकिन उन्हें लगता है कि विनेश इस साल टोक्यो ओलम्पिक में फोगाट परिवार का ओलम्पिक पदक जीतने का सपना पूरा कर सकती हैं। उल्लेखनीय है कि विनेश ने 2016 के रियो ओलम्पिक में हिस्सा लिया था लेकिन चोट के कारण उन्हें अपना मुकाबला गंवाना पड़ा था। विनेश ने चोट से उबरने के बाद शानदार वापसी करते हुए 2018 में राष्ट्रमंडल खेलों और फिर एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। विनेश ने 2019 में विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने के साथ देश को ओलम्पिक कोटा भी दिलाया था।

रोटरडैम ओपन: अपने जोड़ीदार के साथ क्वार्टर फाइनल में पहुंचे रोहन बोपन्ना

महावीर फोगाट ने इस अवसर पर कहा कि उन्होंने अपनी बेटियों को बेटों से कमतर नहीं आंका। गीता, बबीता, संगीता और विनेश ने ढेरों उपलब्धियाँ हासिल की और अब फोगाट परिवार ओलंपिक पदक की उम्मीद लगाए बैठा है जिसे विनेश पूरा कर सकती है। महावीर ने कहा कि यदि इस बार कोई भारत को कुश्ती में स्वर्ण दिला सकता है तो वह विनेश है। रितु ने भी कहा कि विनेश रियो में चोट खा बैठी वरना यह सपना उसी समय पूरा हो जाता। मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में उतरने के बारे में पूछने पर रितु ने कहा कि उन्होंने अपने कोच पिता से अनुमति लेकर उसने ट्रैक बदला और कुश्ती से मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में उतर गयीं। उन्होंने कहा कि अपने नए खेल में वह कुछ बड़ा करना चाहती है और उनका लक्ष्य इस खेल में विश्व चैंपियन बनना है।

उन्होंने 28 फ़रवरी को सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में वू शियाओ चेन के खिलाफ होने वाले मुक़ाबले के बारे में जानकारी दी और कहा कि वह अपनी दूसरी फाइट जीत कर खिताब की तरफ मजबूत कदम बढ़ाना चाहती है और भारत की पहली मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स चैम्पियन के रूप में स्थापित होना चाहती है। उनका मानना है कि कुश्ती और मार्शल आट्र्स में बहुत ज़्यादा फ़र्क नहीं है। महावीर ने भी कहा कि रितु अपनी मेहनत से नए खेल में विश्व चैंपियन बन सकती है।

FIH Award: स्ट्राइकर लालरेम्सियामी बनीं 'राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर'

टोक्यो ओलम्पिक में पदक उम्मीदों के बारे में पूछे जाने पर महावीर फोगाट ने कहा कि ओलम्पिक में इस बार विनेश के साथ-साथ बजरंग पुनिया पर भी निगाहें रहेंगी। बजरंग ने विनेश की तरह 2018 में राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था और पिछले साल विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतकर ओलम्पिक कोटा हासिल किया था। बजरंग और संगीता फोगाट की कुछ सप्ताह पहले मंगनी हुई है और ओलंपिक के बाद ही शादी के बारे में सोचा जाएगा। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ritu Phogat says Vinesh can fulfill the Olympic medal dream