फोटो गैलरी

Hindi News खेलPro Kabaddi League : पुणेरी पलटन ने पहली बार जीता खिताब, रोमांचक फाइनल में हरियाणा स्टीलर्स को 28-25 से हराया

Pro Kabaddi League : पुणेरी पलटन ने पहली बार जीता खिताब, रोमांचक फाइनल में हरियाणा स्टीलर्स को 28-25 से हराया

पुणेरी पलटन ने प्रो कबड्डी लीग के 10वें सीजन के फाइनल में हरियाणा स्टीलर्स को 28-25 से हरा दिया है। इसके साथ ही पुणेरी पलटन की टीम पहली बार प्रो कबड्डी लीग का खिताब जीतने में कामयाब रही है।

Pro Kabaddi League : पुणेरी पलटन ने पहली बार जीता खिताब, रोमांचक फाइनल में हरियाणा स्टीलर्स को 28-25 से हराया
Himanshu Singhएजेंसी,हैदराबादFri, 01 Mar 2024 11:21 PM
ऐप पर पढ़ें

पुणेरी पलटन ने अपने ऑलराउंड प्रदर्शन के दम पर इतिहास रचते हुए पहली बार प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) का खिताब जीत लिया। अपना दूसरा फाइनल खेलने उतरी पलटन की टीम ने शुक्रवार को जीएमसी बालायोगी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स (गाचीबोवली) में खेले गए 10वें सीजन के फाइनल मुकाबले में हरियाणा स्टीलर्स को 28-25 से हरा दिया। हरियाणा की टीम पहली बार फाइनल में पहुंची थी, लेकिन खिताब जीतने का उसका सपना टूट गया। 

चैंपियन पुणेरी पलटन की इस खिताबी जीत में पंकज मोहिते सबसे बड़े स्टार रहे, जिन्होंने नौ प्वॉइंट हासिल किए। उन्होंने एक रेड में चार प्वॉइंट की एक सुपर रेड भी लगाई और वही रेड इस फाइनल में मैच का टर्निंग प्वॉइंट साबित हुआ। उनके अलावा मोहित गोयत ने पांच, गौरव खत्री और कप्तान असलम इनामदार ने चार-चार अंक हासिल किए। हरियाणा स्टीलर्स के लिए शिवम पटारे ही अकेले लड़े, जिन्होंने छह प्वॉइंट लिए। अंतिम मिनटों में मैट पर उतरे सिद्धार्थ देसाई ने चार अंक बटोरे। 

इस खिताबी मुकाबले में हरियाणा स्टीलर्स की शुरुआत अच्छी नहीं रही और पुणेरी पलटन ने अंक लेने का आगाज किया। अपना दूसरा फाइनल खेलने उतरी पुणेरी ने इसके साथ ही पहले पांच मिनट के खेल में 3-0 की लीड ले ली। हालांकि इसके बाद हरियाणा ने डिफेंस में जाकर अपना पहला प्वॉइंट हासिल किया। स्टीलर्स ने फिर सातवें मिनट में 3-3 की बराबरी बना ली। कोच मनप्रीत सिंह की टीम हालांकि इसके बावजूद शुरुआती 10 मिनट के खेल में एक प्वॉइंट से पीछे थी। इसी बीच, राहुल सेठपाल ने डू ऑर डाई में पुणेरी के खिलाड़ी को टैकल करके हरियाणा को 4-4 की बराबरी दिला दी। आज के इस फाइनल मुकाबले में दोनों टीमों का डिफेंस अपने शबाब पर था और अपनी टीम के लिए लगातार प्वॉइंट ले रहा था। 

पहली बार फाइनल खेल रही हरियाणा के लिए शिवम पटारे ने एक बार फिर से 12वें मिनट में 6-6 की बराबरी दिला दी। पुणेरी पलटन ने हालांकि 16वें मिनट में फिर से लीड बना ली। 18वें मिनट में पंकज मोहित ने डू ऑर डाई में हरियाणा स्टीलर्स का लगभग सफाया ही कर दिया जब उन्होंने पुणेरी पलटन के लिए चार प्वॉइंट की सुपर रेड लगा दी। इसके साथ ही पलटन की टीम ने 13-7 की मजबूत लीड कायम कर ली। हालांकि अगली ही रेड में विशाल काटे ने बोनस प्लस टच प्वॉइंट लेकर हरियाणा को ऑल आउट होने से बचा लिया। इसके बाद स्टीलर्स ने वापसी करनी शुरू कर दी। बावजूद इसके पुणेरी पलटन ने हाफ टाइम तक 13-10 की बढ़त बरकरार रखी।

दूसरे हाफ के शुरू होने के बाद 23वें मिनट में हरियाणा स्टीलर्स की टीम ऑलआउट हो गई और इससे पुणेरी पलटन को 18-11 की लीड मिल गई। पुणेरी के लिए आज डिफेंस गजब कर रहा था और उससे टीम लगातार बढ़त बनाए हुई थी। 27वें मिनट तक पुणेरी पलटन के पास 20-14 की लीड कायम थी और टीम खुद को मुकाबले में आगे रखी हुई थी। मैच के 30वें मिनट तक पुणेरी के पास पांच प्वॉइंट की लीड थी और उसका स्कोर 21-16 का था। 

ध्रुव जुरेल ने माता-पिता के साथ शेयर की फोटो, इन दो अवॉर्ड को पैरेंट्स को दिखाया

मैच के अंतिम 10 मिनट के खेल में दोनों टीमों ने अपना आक्रमण तेज कर दिया। लेकिन पुणेरी के खिलाड़ी अपनी टीम के लिए लगातार प्वॉइंट हासिल करते हुए जा रहे थे। 33वें मिनट में डू ऑर डाई में आए विनय टैकल कर लिए गए और इससे हरियाणा की मुश्किलें बढ़ने लगी। 35वें मिनट तक पुणेरी पलटन के पास छह प्वॉइंट की लीड बरकरार थी और उसका स्कोर 25-19 का था। 

हरियाणा ने अंतिम पांच मिनट के खेल में अपना सबकुछ झोंक दिया क्योंकि पलटन के पास छह प्वॉइंट की लीड बरकरार थी। लेकिन पुणेरी ने लगातार प्वॉइंट लेते हुए हरियाणा की वापसी की उम्मीदों को धूमिल कर दिया और अपनी बढ़त को 28-20 तक पहुंचा दिया। हरियाणा ने फिर अपने बाहुबली सिद्धार्थ देसाई को मैट पर उतारा और उन्होंने अपनी टीम के लिए दो अंक हासिल कर लिए। अंतिम मिनटों में खेल में पुणेरी के खिलाड़ी मैट पर टाइम काटने लगे। इसके बाद अंतिम व्हिसल बजते ही पुणेरी पलटन ने 28-25 की रोमांचक जीत के साथ पीकेएल में पहली बार चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें