DA Image
हिंदी न्यूज़ › खेल › पीएम नरेंद्र मोदी ने पैरालंपिक पदक विजेताओं का बढ़ाया हौसला, मेडलिस्ट खिलाड़ियों ने प्रधानमंत्री संग बांटे अपने अनुभव 
खेल

पीएम नरेंद्र मोदी ने पैरालंपिक पदक विजेताओं का बढ़ाया हौसला, मेडलिस्ट खिलाड़ियों ने प्रधानमंत्री संग बांटे अपने अनुभव 

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्ली Published By: Ezaz Ahmad
Thu, 09 Sep 2021 12:56 PM
पीएम नरेंद्र मोदी ने पैरालंपिक पदक विजेताओं का बढ़ाया हौसला, मेडलिस्ट खिलाड़ियों ने प्रधानमंत्री संग बांटे अपने अनुभव 

टोक्यो पैरालंपिक खेलों में भारतीय खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए रिकॉर्ड 19 मेडल जीते हैं। पैरालंपिक खेलों में यह भारत का अब तक का बेस्ट प्रदर्शन है। समापन के बाद सभी खिलाड़ी स्वदेश लौट आए हैं और गुरुवार को उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात भी की। प्रधानमंत्री के आवास पर हुई इस मुलाकात के दौरान खिलाड़ियों ने जहां, पीएम के साथ अपने अनुभव साझा किए तो वहीं, प्रधानमंत्री ने भी मेडल जीतने वाले इन खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के पैरालम्पिक दल को अपने आवास पर गुरूवार को सुबह के नाश्ते पर बुलाकर सम्मानित किया और खिलाड़ियों ने उन्हें अपने हस्ताक्षर वाला एक स्टोल भेंट किया। भारत पदक तालिका में 24वें स्थान पर रहा। सभी पदक विजेताओं ने अपने हस्ताक्षर वाला सफेद स्टोल प्रधानमंत्री को भेंट किया जो उन्होंने गले में पहन रखा था। पैरा एथलीटों को पदक जीतने के बाद सबसे पहले फोन पर बधाई देने वाले मोदी बैडमिंटन खिलाड़ियों रजत पदक विजेता नोएडा के जिला मजिस्ट्रेट सुहास यथिराज, स्वर्ण पदक विजेता कृष्णा नागर और युवा पलक कोहली से बात करते दिखे। इस समापन समारोह में भारत के 11 खिलाड़ियों ने शिरकत की। 1968 से 2016 तक भारतीय पैरालिंपिक टीम ने मात्र 12 पदक जीते थे मगर 2020 का ये टोक्यो पैरालंपिक्स भारत के ये यादगार साबित हुआ।

पीएम खुद एथलीटों से मिलने एक टेबल से दूसरे टेबल पर गए और खिलाड़ियों के साथ समय बिताया। मोदी ने नोएडा के जिला मजिस्ट्रेट और पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी सुहास यतिराजको से मुलाकात की और उन्हें शाब्बाशी दिया। सुहास ने टोक्यो पैरालंपिक खेलों में सिल्वर मेडल जीता था। पीएम ने इसके बाद कृष्णा नागर के साथ मेडल पे चर्चा की। नागर ने टोक्यो पैरालंपिक खेलों में बैडमिंटन के पुरुष सिंगल्स एसएच6 फाइनल में हॉन्गकॉन्ग के चू मान को मात देकर गोल्ड मेडल जीता है। प्रधानमंत्री मोदी ने अनुभवी भालाफेंक खिलाड़ी देंवेंद्र झाझडिया और ऊंची कूद के खिलाड़ी मरियप्पन थंगावेलु से भी बात की। दोनों ने रजत पदक जीता। टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविना पटेल और तीरंदाज हरविंदर सिंह भी तस्वीरों में नजर आए। पटेल ने रजत और सिंह ने कांस्य पदक जीता है। 

पैरालंपिक में भारत को 19 पदक:  गृहमंत्री अमित शाह ने 'चमत्कार' के लिए पीएम मोदी को दिया क्रेडिट

भारत ने इस बार टोक्यो पैरालंपिक खेलों में अपना सबसे बड़ा 54 एथलीट का दल उतारा था, जिसने शानदार प्रदर्शन करते हुए रिकॉर्ड 19 मेडल जीते। इन 19 पदकों में 5 गोल्ड, 8 सिल्वर और 6 ब्रॉन्ज मेडल शामिल हैं। टोक्यो पैरालंपिक में जिन खिलाड़ियों ने भारत के लिए मेड जीते उनमें अवनि लेखरा, सिंहराज अडाना, सुमित अंतिल, मनीष नरवाल, प्रमोद भगत, कृष्णा नागर, भाविना पटेल, निषाद कुमार देवेंद्र झाझरिया, योगेश कथुनिया, मरियप्पन थंगवेलु, प्रवीण कुमार, सुहास यतिराज, सुंदर सिंह गुर्जर, शरद कुमार, हरविंदर सिंह और मनोज सरकार शामिल हैं। 

Tokyo Paralympics 2020: क्लोजिंग सेरेमनी में अवनी लेखरा ने किया भारतीय दल का नेतृत्व

गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाडियों में सुमित अंतिल (जैवलिन), प्रमोद भगत (बैडमिंटन), कृष्णा नागर (बैडमिंटन), मनीष नरवाल और अवनी लेखरा (शूटिंग) का नाम शामिल है। उनके अलावा योगेश कस्थूनिया (डिस्कस थ्रो), निषाद कुमार (हाई जम्प), मारियप्पन थंगवेलू (हाई जम्प), प्रवीण कुमार (हाई जम्प), देवेन्द्र झाझरिया (जैवलिन थ्रो), सुहास यथीराज (बैडमिंटन), सिंहराज अधाना (शूटिंग) भाविना पटेल (टेबल टेनिस) को सिल्वर के साथ संतोष करना पड़ा। वहीं हरविंदर सिंह (आर्चरी), शरद कुमार (हाई जम्प), सुंदर सिंह गुर्जर (जैवलिन थ्रो), मनोज सरकार (बैडमिंटन), सिंहराज अधाना (शूटिंग) और अवनी लेखरा (शूटिंग) ने ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया।

संबंधित खबरें