नोवाक जोकोविच और राफेल नडाल के बीच होगा फ्रेंच ओपन का ब्लॉकबस्टर फाइनल, 56वीं बार दोनों आमने-सामने

वार्ता , पेरिस Last Modified: Sat, Oct 10 2020. 13:00 PM IST
offline

विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच और क्ले कोर्ट के बेताज बादशाह तथा 12 बार के विजेता स्पेन के राफेल नडाल के बीच क्ले कोर्ट ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट का ब्लॉकबस्टर खिताबी मुकाबला खेला जाएगा। शीर्ष वरीयता प्राप्त जोकोविच ने शुक्रवार को सेमीफाइनल में पांचवीं वरीयता प्राप्त यूनान के स्तेफानोस सितसिपास को पांच सेटों के संघर्ष में 6-3, 6-2, 5-7, 4-6, 6-1 से हराया और पांचवीं बार फ्रेंच ओपन के फाइनल में प्रवेश किया, जबकि विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी नडाल ने 12वीं वरीयता प्राप्त अर्जेंटीना के डिएगो श्वाट्र्जमैन को लगातार सेटों में 6-3, 6-3, 7-6 (0) से हराकर 13वीं बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई। जीत के बाद जोकोविच ने कहा, ''मैं शांत बना रहा, लेकिन भीतर से काफी उथल पुथल थी।"

जोकोविच ने मैच में 56 विनर्स लगाए। जोकोविच का यह 27वां ग्रैंड स्लैम फाइनल है और इस वर्ष उन्होंने अपना शानदार रिकॉर्ड 37-1 पहुंचा दिया है। वर्ष 2016 में यहां चैंपियन रह चुके जोकोविच की फ्रेंच ओपन में यह 74वीं जीत है। जोकोविच अब 18वें ग्रैंड स्लैम खिताब और नडाल स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर के 20 ग्रैंड स्लेम खिताबों के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी करने से एक कदम दूर रह गए हैं। जोकोविच और नडाल के बीच करियर का यह 56वां मुकाबला होगा। अब तक हुए 55 मुकाबलों में जोकोविच ने 29 और नडाल ने 26 मुकाबले जीते हैं, जबकि फ्रेंच ओपन में दोनों का सामना सात बार हुआ है और छह बार नडाल विजयी रहे।

नडाल ने अपना मुकाबला तीन घंटे नौ मिनट में जीता। नडाल ने फ्रेंच ओपन में 101 मैचों में 99वीं जीत हासिल की। नडाल अब फ्रेंच ओपन में 13वें खिताब से एक कदम दूर रह गए हैं। नडाल यदि इस बार खिताब जीतेंगे तो फ्रेंच ओपन में यह उनकी 100वीं जीत होगी। नडाल ने श्वाट्र्जमैन से पहले दो सेट आसानी से जीत लिए। श्वाट्र्जमैन ने तीसरे सेट में संघर्ष किया और इस सेट को टाई ब्रेक में खींचा, लेकिन नडाल ने टाई ब्रेक में लगातार सात अंक लेकर मैच समाप्त कर दिया।

स्पेन के लीजेंड नडाल को फ्रेंच ओपन से पहले इटालियन ओपन के क्वार्टरफाइनल में श्वाट्र्जमैन से हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन यहां उन्होंने सेमीफाइनल में उस हार का बदला चुका लिया। नडाल ने मैच में 38 विनर्स लगाए और नौ ब्रेक अंकों में से छह को भुनाया। नडाल इस जीत के साथ लगातार चौथी बार फ्रेंच ओपन के फाइनल में पहुंच गए। क्ले कोर्ट के बादशाह के करियर में यह तीसरा मौका है जब वह लगातार चार या उससे ज्यादा बार फ्रेंच ओपन के फाइनल में पहुंचे हैं। नडाल ने पेरिस में 2005 से 2008 तक लगातार चार बार और 2010 से 2014 तक लगातार पांच बार खिताब जीते थे।

नडाल ने जीत के बाद दर्शकों को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, “फ्रेंच ओपन में एक और फाइनल में पहुंचना अविश्वसनीय है। मेरे लिए यह ख़ास क्षण है। मैंने तीसरे सेट में कुछ गलतियां किन लेकिन मुझे ख़ुशी है कि मैंने टाई ब्रेक में कोई गलती नहीं की।” 19 बार के ग्रैंड स्लैम चैंपियन नडाल यदि इस बार खिताब जीतते हैं तो वह स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर के 20 ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे।

ऐप पर पढ़ें

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।
हिन्दुस्तान मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें