DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मर्सिडीज के लुइस हैमिल्टन के नाम रही एफ-1 विश्व चैम्पियनशिप की 1000वीं रेस

मर्सिडीज टीम के ब्रिटिश चालक लुइस हैमिल्टन ने शंघाई इंटरनेशनल सर्किट पर आयोजित चाइनीज ग्रां प्री रेस जीतकर अपना नाम इस खेल के इतिहास में अमर कर लिया।

lewis hamilton jpg

मर्सिडीज टीम के ब्रिटिश चालक लुइस हैमिल्टन ने शंघाई इंटरनेशनल सर्किट पर आयोजित चाइनीज ग्रां प्री रेस जीतकर अपना नाम इस खेल के इतिहास में अमर कर लिया। यह एफ-1 विश्व चैम्पियनशिप इतिहास की 1000वीं रेस थी। लुइस हैमिल्टन ने 900वीं रेस भी जीती थी और वह अब तक मौजूदा चालकों में सबसे अधिक 75 बार पहला स्थान हासिल कर चुके हैं। एफ-1 इतिहास में ब्रिटिश चालकों का बोलबाला रहा है। 1000 में से 279 बार ब्रिटेन के चालकों ने रेस में पहला स्थान हासिल किया है। इनमें 75 जीत के साथ लुइस हैमिल्टन सबसे आगे हैं। वैसे एफ-1 इतिहास में सबसे अधिक जीत का रिकॉर्ड जर्मनी के चालक माइकल शूमाकर के नाम है। शूमाकर ने अपने करियर में कुल 91 रेसें जीती हैं। जर्मन चालक 178 बार पहला स्थान हासिल करने में सफल रहे हैं।

ब्रिटिश चालकों की बात करें तो हेमिल्टन के बाद निगेल मैंशेल ने 31, जैकी स्टीवार्ट ने 27, जिम क्लार्क ने 25, डेमन हिल ने 22, स्टर्लिंग मॉस ने 16, जेनसन बटन ने 15, ग्राहम हिल ने 14, डेविड कोर्टलैंड ने 13, जेम्स हंट ने 10, टोनी ब्रूक्स ने 6, जॉन सटीर्स ने 6, जॉन वॉटसन ने 5, एडी इर्विन ने 4, माइक हॉथॉर्न ने 3, पीटर कोलिंस ने 3, जॉनी हर्बर्ट ने तीन, इनेस आयरलैंड और पीटर गेटहिन ने एक-एक रेस जीती है। जर्मन चालकों की बात करें तो शूमाकर ने 91, शंघाई में तीसरे स्थान पर रहे सबैस्टियन विटेल ने 52, निको रोसबर्ग ने 23, रॉल्फ शूमाकर ने 6, हेंज फ्रेंटजेन ने 3, वूल्फगैंग ट्रिप्स ने 2 और जोचेन मास ने 1 रेस जीती है।

एफ-1 इतिहास में सिर्फ ब्रिटेन, जर्मनी और ब्राजील के चालक 100 से अधिक रेसें जीत सके हैं
एफ-1 इतिहास में सिर्फ ब्रिटेन, जर्मनी और ब्राजील के चालक 100 से अधिक रेसें जीत सके हैं। ब्राजील की बात करें तो उसके एफ-1 आयकन एर्टन सेना ने 41 बार पहला स्थान हासिल किया है। जबकि नेल्सन पिग्वेट ने 23, एमर्सन फिट्टीपाल्डी ने 14, रुबेंस बारीचेलो ने 11, फिलिप मासा ने 11 और कालोर्स पेस ने 1 एक रेस जीती है। इसके बाद फ्रांसीसी चालकों का स्थान आता है। फ्रांस के लिए एलेन प्रॉस्ट ने सबसे अधिक 51 बार पहला स्थान हासिल किया है। इसके बाद रेने एनॉर्क्स ने सात, जेक्विस लेफिट ने 6, दिदिर पिरोनी ने 3, मौरिस टिंटिंगनैंट ने दो, पैट्रिक डैपैलियर, जीन जाबोल, पैट्रिक टैम्बे ने दो-दो, फ्रांकोइस केवर्ट, जीन बेल्टोइस, जीन एलीसी और ओलीवर पेनिस ने एक-एक रेस जीती है।

सबसे अधिक रेस जीतने वाले देशों की सूची में पांचवें स्थान पर फिनलैंड का नाम है, जिसके लिए किमी राइकोनेन ने सबसे अधिक 21 रेस जीती है। शंघाई में रविवार को राइकोनेन नौवें स्थान पर रहे। इसके बाद मीका हेकिनेन ने 20, केके रोसबर्ग ने पांच, इस साल मर्सिडीज के चालक वालटेरी बाटोस ने चार (बाटोस शंघाई में दूसरे स्थान पर रहे) और हिक्की कोवालिनेन ने एक रेस जीती है।

इसके बाद इटली का स्थान है, जिसके चालकों ने 43 बार पहला स्थान हासिल किया है। इनमें अल्बर्टो अस्करी (13), रिकाडोर् पैट्रिस (6), गिउसेप फारिना (5), मिशेल एल्बोरेटो (5), जियानकालोर् फिस्चिला (3), एलियो एंजेलिस (2), लुइगी फागियोली (1), पिएरो तारफी (1) , लुइगी मुस्सो (1), जियानकालोर् बागेटी (1), लोरेंजो बंदिनी (1), लुडोविको स्कारफीटी (1), विटोरियो ब्रांबिला (1), एलेसेंड्रो बारिनी (1), ट्रूली (1) विजेता रहे हैं। सातवें स्थान पर ऑस्ट्रेलिया है, जिसके  42 चालकों ने पोडियम पर पहला स्थान पाया है। इनमें जैक ब्रेहम (14), एलन जोन्स (12), मार्क  वेबर (9), डैनियल रिकार्डो (7) प्रमुख हैं।

ऑस्ट्रिया के  41 चालक रेस जीतने में सफल रहे हैं। इनमें निकी लौडा (25), गेरहार्ड बर्जर (1०), जोचेन रिंड्ट (6) हैं। इसी तरह अजेर्ंटीना के 38 चालकों ने बाजी मारी है। इस सूची में जुआन मैनुअल फांगियो (24), कालोर्स रुटेमैन (12), जोस फ्रिलियन गोंजालेज (2) शामिल हैं। अन्य खेलों में पावरहाउस माने जाने वाले अमेरिका के चालकों ने 33 बार पहला स्थान हासिल किया है। इनमें मारियो एंड्रेती (12), डैन गुनीर् (4), फिल हिल (3), बिल वोविक (2), पीटर रेवसन (2), जॉनी पार्सन्स (1), ली वॉलार्ड (1), ट्रॉय रॉटमैन (1) ), बॉब स्विकर्ट (1), पैट फ्लेहटीर् (1), सैम हैंक्स (1), जिमी ब्रायन (1), रॉजर वार्ड (1), जिम रथमन (1), रिची गिन्थर (1) शामिल हैं।

इस सूची में स्पेन ने 32 बार पोडियम पर पहल स्थान पाया है और हर बार फर्नांडो अलोंसो ने उसका प्रतिनिधित्व किया है। इसी तरह कनाडा के 17 चालकों में जैक्स विलेन्यूव (11), गिल्स विलेन्यूवे (6) शामिल हैं। न्यूजीलैंड के 12 ऐसा करने में सफल रहे हैं। इनमें डेनी हुल्मे (8), ब्रूस मैकलारेन (4) शामिल हैं। स्वीडन को 12 बार पहला स्थान मिला है और उसके लिए रोनी पीटरसन (10), जो बॉनियर (1), गुन्नार निल्सन (1) ने यह मुकाम हासिल किया है। इस सूची में 15वें स्थान पर बेल्जियम है जिसके 11 चालक पहला स्थान हासिल करने में सफल रहे हैं। इनमें से जैकी आइक्स (8), थियरी बाउटसेन (3) शामिल हैं। इसके बाद दक्षिण अफ्रीका का स्थान आता है। उसके 10 चालक पहले स्थान पर आए हैं और हर बार जोडी स्कैटर ने उसका प्रतिनिधित्व किया है। 

अन्य देशों में कोलम्बिया (7, जुआन पाब्लो मोंटोया (7), स्विट्जरलैंड (7, क्ले रेजाजोनी (5), जो सिफर्ट (2), नीदरलैंड्स (5, मैक्स वेरस्टापेन (5), मैक्सिको (2 ,पेड्रो रोड्रिगेज (2), पोलैंड (1, रॉबर्ट कुबिका), वेनेजुएला (1, पादरी माल्डोनाडो) शामिल हैं। चालक के लिहाज से सबसे अधिक जीत का रिकार्ड शूमाकर के नाम रहा है, जो 1991 से 2006 और 2010 से 2012 तक सक्रिय रहे। चाइनीज ग्रां प्री शूमाकर की अंतिम रेस थी। इसके बाद हेमिल्टन (75), विटेल (52), एलेन प्रॉस्ट (51) का स्थान आता है।

सभी खेलों से जुड़े समाचार पढ़ें सबसे पहले Live Hindustan पर। अपने मोबाइल पर Live Hindustan पढ़ने के लिए डाउनलोड करें हमारा न्यूज एप। और देश-दुनिया की हर खबर से रहें अपडेट। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mercedes driver Lewis Hamilton wins 1000 race of F1 World Championship History in Chinese Grand Prix