Kiren Rijiju becomes New Sports and Youth Affairs Minster of India in Modi Sarkar 2nd Term - फिटनेस के मुरीद और स्कूली दिनों के खिलाड़ी किरण रिजिजू बने भारत के नए खेलमंत्री DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फिटनेस के मुरीद और स्कूली दिनों के खिलाड़ी किरण रिजिजू बने भारत के नए खेलमंत्री

पूर्वोत्तर में भाजपा का चेहरा माने जाने वाले प्रखर वक्ता और पूर्व गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू नई नरेंद्र मोदी सरकार में युवा कार्य और खेल मंत्रालय का जिम्मा संभालेंगे।

kiren rijiju jpg

पूर्वोत्तर में भाजपा का चेहरा माने जाने वाले प्रखर वक्ता और पूर्व गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू नई नरेंद्र मोदी सरकार में युवा कार्य और खेल मंत्रालय का जिम्मा संभालेंगे। यह इत्तेफाक है कि अपने स्कूल में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी रहे, फिटनेस के मुरीद इस युवा नेता को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली सरकार में इस मंत्रालय का जिम्मा राज्यवर्धन सिंह राठौर के पास था। पिछली सरकार में गृह राज्यमंत्री रहे किरण रिजिजू का खेलों से नाता नया नहीं है। सोशल मीडिया पर अक्सर अपनी वर्जिश की तस्वीरें डालकर फिटनेस के प्रति जागरूक करने वाले रिजिजू अपने स्कूली दिनों में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी रहे। यही नहीं उन्होंने राष्ट्रीय खेलों में भी हिस्सा लिया।

READ ALSO: मोदी कैबिनेट: विदेश मंत्री बनने वाले पहले नौकरशाह बने एस जयशंकर

पूर्वोत्तर में भाजपा का चेहरा हैं किरण रिजिजू
48 वर्षीय रिजिजू को पूर्वोत्तर में भारतीय जनता पार्टी का चेहरा माना जाता है। पूर्वोत्तर के सबसे ओजस्वी नेताओं में से एक रिजिजू संसद में क्षेत्र की आवाज भी रहे हैं। अपने स्कूली दिनों में समाजसेवा में सक्रिय रहे रिजिजू ने कई आंदोलनों में हिस्सा लिया। वह युवा और सांस्कृतिक टीम के सदस्य के तौर पर 1987 में तत्कालीन सोवियत संघ में भारत उत्सव में भाग लेने गए। युवा नेता और संसदीय प्रतिनिधिमंडल के सदस्य के तौर पर कई देशों का दौरा कर चुके रिजिजू ने दिल्ली विश्वविद्यालय के हंसराज कॉलेज से स्नातक और दिल्ली विश्वविद्यालय से ही कानून में स्नातक की डिग्री हासिल की। वह 29 बरस की उम्र में सन 2000 से 2005 तक खादी और ग्रामीण उद्योग आयोग के सदस्य रहे।

READ ALSO: अमित शाह- एक सामान्य कार्यकर्ता से भारत के गृहमंत्री बनने तक का सफर

तीसरी बार लोकसभा पहुंचे हैं किरण रिजिजू 
उन्होंने 2004 में अरुणाचल पश्चिम लोकसभा सीट से संसद में प्रवेश किया और 14वीं लोकसभा के सबसे प्रखर वक्ताओं में अपना नाम शामिल कराने में कामयाब रहे। हालांकि 2009 के लोकसभा चुनाव में वह इस सीट से 1314 मतों से हार गए। लेकिन 2014 में फिर इसी लोकसभा सीट से चुने गए। उन्होंने पिछली बार कांग्रेस के तकाम संजय को 43,738 मतों से हराया और मोदी सरकार के मंत्रिमंडल का हिस्सा बने। इस बार उन्होंने दो बार के मुख्यमंत्री नबाम तुकी को डेढ लाख से अधिक मतों से हराया। भारत में जहां सूरज की किरणें सबसे पहले  पड़ती हैं, उस अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम कामेंग जिले के नफरा में 19 नवंबर 1971 को जन्मे किरण रिजिजू के पिता अरुणाचल प्रदेश विधानसभा के अस्थाई स्पीकर रह चुके हैं।

सभी खेलों से जुड़े समाचार पढ़ें सबसे पहले Live Hindustan पर। अपने मोबाइल पर Live Hindustan पढ़ने के लिए डाउनलोड करें हमारा न्यूज एप। और देश-दुनिया की हर खबर से रहें अपडेट।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kiren Rijiju becomes New Sports and Youth Affairs Minster of India in Modi Sarkar 2nd Term