DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

FIH के भारी जुर्माने पर पाकिस्तान ने कहा- इसे चुकाने की स्थिति में नहीं

pakistan hockey team  getty images

अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने प्रो लीग प्रतिबद्धताओं को पूरा नहीं करने पर पाकिस्तान हॉकी महासंघ (पीएचएफ) पर 170,000 यूरो का जुर्माना लगाया है लेकिन आर्थिक तंगी से जूझ रहे पीएसएफ ने कहा कि वे जुर्माने की रकम अदा करने की स्थिति में नहीं है।

पीएचएफ ने पुष्टि की कि अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में प्रो लीग मैचों के लिए राष्ट्रीय टीम नहीं भेजने पर एफआईएच ने इस हफ्ते हुई कार्यकारी बोर्ड बैठक में पाकिस्तान पर 170,000 यूरो का जुर्माना लगाया।

11 साल बाद मास्टर्स खिताब जीतकर टाइगर की वापसी, ट्रंप-ओबामा ने दी बधाई

पीएचएफ के सचिव शाहबाज अहमद ने बुधवार को कहा कि उन्होंने एफआईएच से जुर्माने की रकम को कम करने के लिए कहा है और इसे किश्तों में इसका भुगतान करने की मांग की है।

शाहबाज ने कहा, '' मैंने एफआईएच के सदस्यों को कहा है कि प्रो लीग में टीम भेजने के लिए हमारे पास पैसे नहीं है तो हम इतना भारी जुर्माना कहा से चुकाएंगे। मैंने उनसे कहा कि उन्हें पाकिस्तान हॉकी के संकट को समझना चाहिए और जुर्माना लगाने कि जगह हमारी मदद करनी चाहिए।''

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और ओलंपियन शाहबाज ने कहा, ''फिलहाल मैं इस बात को लेकर राहत महसूस कर रहा हूं कि एफआईएच ने हम पर प्रतिबंध नहीं लगाया लेकिन मैं उन्हें इस बात के लिए तैयार करने की कोशिश करूंगा कि जुर्माने को किश्तों में अदा करने की छूट दी जाए।''

मर्सिडीज के लुइस हैमिल्टन के नाम रही एफ-1 विश्व चैम्पियनशिप की 1000वीं रेस

एफआईएच ने पीएचएफ को 20 जून तक जुर्माने की रकम अदा करने की तारीख दी है और ऐसा नहीं करने की स्थिति में जुर्माना दोगुना हो जाएगा। शाहबाज एफआईएच के कार्यकारी बोर्ड के सदस्य हैं, जिसका नेतृत्व भारत के नरिंदर बत्रा कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:International Hockey Federation imposes fine on Pakistan