DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारती बघेल हारी, तीन साल में पहली बार खाली हाथ लौटेगी टीम

representative image

भारती बघेल 3-1 से बढ़त हासिल करने के बावजूद शुक्रवार को यहां किर्गीस्तान की नुराइदा अनारकुलोवा से हार गई। जिससे भारतीय महिला टीम को विश्व जूनियर कुश्ती चैंपियनशिप में तीन साल में पहली बार खाली हाथ लौटना होगा। 

भारती ने 57 किग्रा के इस मुकाबले में आक्रामक रवैया अपनाया और उन्होंने 2-0 की बढ़त बना ली। पहले पीरियड के बाद वह 2-1 से बढ़त पर थी। उन्होंने इसके बाद अपने खाते में एक और अंक जोड़, लेकिन नुराइदा ने इसके बाद शानदार वापसी करके स्कोर 3-3 से बराबर किया। नुराइदा ने आखिरी अंक बनाया था इसलिए उन्हें विजेता घोषित किया गया। 

भारतीय महिला हॉकी टीम ने जीत से की ओलंपिक टेस्ट इवेंट की शुरुआत, जापान को 2-1 से हराया

पूजा के पास भी पदक की दौड़ में पहुंचने का मौका था लेकिन वह रेपेचेज में उज्बेकिस्तान की शोखिदा अखमेदोवा से 1-6 से हार गई। इस साल केवल भारती और अंशु मलिक ही पदक दौर में पहुंची थी। 

पुरुष वर्ग में ग्रीको रोमन में दो बार के पदक विजेता सजन भानवाल 77 किग्रा में ईरान के मोहम्मद अजीज से 3-7 से हार गए, लेकिन वह कांस्य की दौड़ में बने हुए हैं। इसी तरह से सुनील कुमार (87 किग्रा) और अवेश कुमार (130 किग्रा) को भी रेपशेज दौर में खेलना होगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Indian Women to Return Empty-Handed From Junior Worlds After Bharti Loses Bronze Bout