DA Image
28 फरवरी, 2020|2:33|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Tennis: 55 साल बाद पाकिस्तान दौरे पर जा सकती है भारतीय डेविस कप टीम

भारतीय डेविस कप टीम मार्च 1964 के बाद पाकिस्तान दौरे पर नहीं गई। वह मुकाबला तब लाहौर में खेला गया था, जिसे भारत ने 4-0 से जीता था।

indian davis cup players rohan bopanna and divij sharan  afp

भारतीय डेविस कप टीम 55 साल के बाद पाकिस्तान का दौरा कर सकती है। अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) ने संकेत दिए कि केंद्र सरकार सितंबर में पड़ोसी देश में खेलने के लिए खिलाड़ियों को अनुमति दे सकती है। 

भारतीय डेविस कप टीम मार्च 1964 के बाद पाकिस्तान दौरे पर नहीं गई। वह मुकाबला तब लाहौर में खेला गया था, जिसे भारत ने 4-0 से जीता था। एआईटीए के महासचिव हिरणमय चटर्जी ने बुधवार को पीटीआई से कहा, ''हमने सरकार को इस संबंध में पत्र लिखा है और उम्मीद है कि हम पाकिस्तान जाएंगे, हमें ऐसा लगता है।''

विंबलडन:खिलाड़ियों की वरीयता का एलान, नडाल को मिली तीसरी सीड

उन्होंने कहा, ''यह द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं है, यह विश्व कप जैसा है इसलिए सरकार को अनुमति देनी होगी। मुझे विश्वास है कि हम पाकिस्तान में जाकर खेलेंगे। पाकिस्तान महासंघ ने कहा है कि यह मुकाबला इस्लामाबाद में होगा।'' इस एशिया ओसेनिया ग्रुप एक मुकाबले का विजेता विश्व ग्रुप क्वालीफायर में जाएगा। 

इन दोनों देशों के बीच आखिरी मुकाबला 2006 में मुंबई में खेला गया था जिसमें भारत ने 3-2 से जीत दर्ज की। वर्तमान में गैरखिलाड़ी कप्तान महेश भूपति उस टीम का हिस्सा थे। उस टीम में दिग्गज लिएंडर पेस, प्रकाश अमृतराज और रोहन बोपन्ना भी शामिल थे। 

इससे पहले भारत और पाकिस्तान का मैच 1973 में मलेशिया में तटस्थ स्थल पर खेला गया था। इस बीच पाकिस्तान टेनिस महासंघ (पीटीएफ) के सलमी सैफुल्लाह ने कहा कि वे घसियाले कोर्ट पर इस मुकाबले की मेजबानी करेंगे। 

भारत ने की IOC सीजन 2023 की मेजबानी की पेशकश

पीटीएफ अध्यक्ष ने कहा, ''भारत और पाकिस्तान के मुकाबले में काफी दिलचस्पी होती है और इसलिए हमें घसियाले कोर्ट पर होने वाले मुकाबले के सीधे प्रसारण से अच्छी कमाई की उम्मीद है जो कि टेनिस के लिए जरूरी है।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Indian Davis Cup Team Likely to Travel to Pakistan After 55 Years