फोटो गैलरी

Hindi News खेलभारत की टेबल टेनिस टीमों ने रचा इतिहास, पहली बार ओलंपिक के लिए किया क्वॉलिफाई

भारत की टेबल टेनिस टीमों ने रचा इतिहास, पहली बार ओलंपिक के लिए किया क्वॉलिफाई

भारत की टेबल टेनिस टीमों (मेंस एंड वुमेंस) ने इतिहास रच दिया है। पहली बार इन टीमों को ओलंपिक में खेलने का मौका मिलेगा। टीम के तौर पर पहली बार भारत ने इस खेल के लिए क्वॉलिफाई किया है। 

भारत की टेबल टेनिस टीमों ने रचा इतिहास, पहली बार ओलंपिक के लिए किया क्वॉलिफाई
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 22 Feb 2024 05:34 AM
ऐप पर पढ़ें

बुधवार को बुसान में आईटीटीएफ विश्व टेबल टेनिस टीम चैंपियनशिप में अपने प्री-क्वॉर्टर फाइनल मैच हारने के बावजूद भारत की पुरुष और महिला दोनों टीमों ने इतिहास रच दिया। भारत की टेबल टेनिस टीमों ने अंतिम विश्व रैंकिंग स्थान हासिल करके पहली बार ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई कर लिया है। बीजिंग 2008 ओलंपिक खेलों में इस स्पर्धा को शामिल किया गया था और इसके बाद से यह पहली बार है कि भारत ने टेबल टेनिस में ओलंपिक की टीम स्पर्धा के लिए क्वॉलिफाई किया।

टीम रैंकिंग की आधिकारिक सूची 4 मार्च को आएगी, लेकिन कैलकुलेशन के अनुसार, दोनों टीमों ने पेरिस ओलंपिक 2024 के लिए जगह बना ली है। टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया के महासचिव कमलेश मेहता ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कहा, “पुरुष और महिला टीमों ने बहुत अच्छा खेला और हमें उन पर गर्व है। हम आधिकारिक घोषणा का इंतजार कर रहे हैं कि हमने पेरिस ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर लिया है, जो 5 मार्च को होगा।"

10 बार के राष्ट्रीय चैंपियन शरत कमल के नेतृत्व वाली पुरुष टीम को मेजबान कोरिया में एक बेहतर टीम ने 3-0 से हरा दिया। महिलाओं ने बहादुरी से लड़ाई लड़ी, लेकिन हाई रैंकिंग वाली चीनी ताइपे से 3-1 से हार गईं, जिसमें वर्ल्ड नंबर 10 चेंग आई-चिंग और वर्ल्ड नंबर 41 जू-यू चेन जैसी खिलाड़ी थीं। शीर्ष भारतीय पुरुष खिलाड़ी ज्ञानशेखरन साथियान ने कहा, "मुझे लगता है कि ऐसा कुछ होना, पुरुष और महिला दोनों वर्गों में एक टीम के रूप में क्वालीफाई करना वास्तव में ऐतिहासिक है।"

PKL 10 के लीग चरण का समापन, पुनेरी पलटन ने यूपी पर दर्ज की रोमांचक जीत, बेंगलुरु बुल्स ने हरियाणा को रौंदा

उन्होंने आगे कहा, “पूरी टीम बहुत उत्साहित है। हम इस दिन का बहुत लंबे समय से इंतजार कर रहे थे। हम बेहद खुश हैं कि हमने ओलंपिक के लिए जगह बना ली है। हालांकि, हमें कोटा की आधिकारिक पुष्टि होने तक इंतजार करना होगा। यह वास्तव में कोचों, सहयोगी स्टाफ, महासंघ और एसएआई सभी का एक शानदार टीम प्रयास है।" 16 टीमें ही ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करती हैं। ऐसे में पेरिस में कड़ी प्रतिस्पर्धा भारतीय टीमों के सामने मेडल जीतने की होगी।  

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें