class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हॉकी: भारतीय कोच ने कहा, दुनिया के किसी भी देश को धूल चटा सकती है टीम

india beat belgium

बुधवार को भारतीय हॉकी टीम ने अपने प्रदर्शन से सभी को चौंका दिया। इंडियन टीम ने मौजूदा ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट बेल्जियम टीम को रोमांचक मुकाबले में हराकर हॉकी विश्व लीग फाइनल के सेमिफाइनल में जगह बना ली। टीम के प्रदर्शन से उत्साहित भारतीय हॉकी टीम के कोच शोर्ड मारिन ने कहा है कि अगर उनकी टीम इस प्रदर्शन को दोहरा सकी तो दुनिया की किसी भी टीम को हरा सकती है। 

हाकी विश्व लीग फाइनल के सेमीफाइनल से पहले संवाददाता सम्मेलन में मारिन ने कहा, 'भारतीय टीम ने कल एक मानदंड कायम किया जो अच्छी बात है। इससे भी बढ़िया बात यह है कि उसे पता है कि उसे यह कैसे हासिल करना है। एक से दस के स्केल पर अभी सभी (खिलाड़ी) सात पर खेल रहे हैं जो काफी है। अगर इस प्रदर्शन को ही दोहरा सके तो किसी भी टीम को हरा सकते हैं।'
      
युवा खिलाड़ियों को आता है जीतना
उन्होंने कहा कि टीम में शामिल युवा खिलाड़ियों ने सफलता का स्वाद पहले भी चखा है और अब लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। मारिन ने कहा, 'हमारे पास युवा टीम है लेकिन इसमें शामिल कई खिलाड़ी जूनियर विश्व कप जीत चुके हैं और यूरोप दौरे पर सफल रहे हैं। उन्हें पता है कि कामयाबी क्या होती है। जितना अधिक वे खेलेंगे, उतना ही प्रदर्शन में निरंतरता आयेगी और सीनियर खिलाडि़यों के अच्छा खेलने से जूनियर्स की राह आसान हो जायेगी ।  

हॉकी वर्ल्ड लीग: रोमांचक मुकाबले में बेल्जियम को हराकर भारत ने सेमीफाइनल में जगह बनाई
      
उन्होंने कहा कि इन कठिन मुकाबलों से उनके खिलाड़ियों ने अहम सबक सीखे हैं जो भविष्य में काम आयेंगे। भारतीय कोच ने कहा, 'हमने बड़ी टीमों के खिलाफ खेला और अहम सबक सीखे। सबसे बड़ी बात यह है कि खिलाड़ी एक ईकाई के रूप में खेले और जुझारूपन दिखाया। ये सभी बातें आने वाले समय में काफी काम आयेंगी।' 

'हमने मौकों को गोल में बदला'
जर्मनी, आस्ट्रेलिया, बेल्जियम जैसी बड़ी टीमों के खिलाफ खेलने पर क्या बदलाव महसूस किया, यह पूछने पर कोच ने कहा कि बदलाव सिर्फ हाथ आये मौके भुनाने का था। उन्होंने कहा, 'हमने जर्मनी और इंग्लैंड के खिलाफ भी गोल करने के मौके बनाये लेकिन उन्हें भुना नहीं सके। बेल्जियम के खिलाफ हमने मौकों को गोल में बदला। बस यही फर्क था। गेंद पर नियंत्रण, पेनल्टी कार्नर और डिफेंस में काफी सुधार देखने को मिला है जो अच्छी बात है।  

किसी भी टीम को हलके में नहीं लेंगे
बता दें कि अब सेमीफाइनल में भारत का मुकाबला इंग्लैंड या अर्जेंटीना से होगा। इस बारे में पूछने पर मारिन ने कहा कि वे किसी टीम को हलके में नहीं ले रहे हैं। उन्होंने कहा, 'इंग्लैंड की टीम बहुत अच्छा खेल रही है और उसने पूल चरण में हमें हराया है। अर्जेंटीना दुनिया की नंबर एक टीम है और ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता है। हालांकि अभ्यास मैच में हमने उसे हराया। हम दोनों में से किसी को हलके में नहीं ले सकते।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:india hockey coach said if team repeats their performance they can beat any team
वर्ल्ड हॉकी लीग:शूटआउट में नीदरलैंड्स को 4-3 से हराकर जर्मनी सेमीफाइनल मेंहॉकी वर्ल्ड लीग: रोमांचक मुकाबले में बेल्जियम को हराकर भारत ने सेमीफाइनल में जगह बनाई