DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विश्व कप-2022 क्वॉलिफायर: भारत के सामने आज कतर की चुनौती 

भारत के खिलाफ कतर का पलड़ा भारी रहा है, जिससे चार में से तीन मैचों में जीत दर्ज की है जबकि एक मैच ड्रॉ रहा। दोनों टीमों के बीच पिछला आधिकारिक मैच सितंबर 2007 में विश्व कप क्वॉलिफायर में खेला गया था।

indian football captain sunil chhetri  pti

भारतीय पुरुष फुटबॉल टीम फीफा विश्व कप-2022 क्वॉलिफायर के तहत मंगलवार (10 सितंबर) को यहां जासिम बिन अहमद स्टेडियम में मेजबान कतर की चुनौती का सामना करेगी। भारतीय टीम को फीफा विश्व कप-2022 क्वॉलिफायर के अपने पहले मैच में गुरुवार को ओमान के हाथों अपने घर में 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था। भारतीय टीम फीफा रैंकिंग में 103 नंबर पर है, जबकि कतर की टीम 62वें नंबर पर है। 

पिछले मैच में भारतीय टीम की ओर से एकमात्र गोल करने वाले सुनील छेत्री ने इस मैच को लेकर कहा, “अब हमें आगे देखना होगा। यहां एक कड़ा मुकाबला होगा और यह मायने नहीं रखेगा कि हम कौन खेल रहे हैं। हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम छोटी-छोटी गलतियों को न दोहराएं, जोकि हमने ओमान के खिलाफ किया था।” 

World Weightlifting Championship: मीराबाई चानू करेंगी भारत की सात सदस्यीय टीम की अगुवाई

कतर टीम में हुआ काफी सुधार
विश्व कप के मेजबान कतर की टीम में पिछले कुछ वर्षों में काफी सुधार हुआ है। टीम ने इसी साल यूएई में एशिया कप जीता और हाल में कोपा अमेरिका में दक्षिण अमेरिकी टीमों को कड़ी टक्कर दी जहां टीम आमंत्रण पर खेली थी। भारत ने भी जनवरी में एशिया कप में यूएई और बहरीन जैसी टीमों को परेशान किया, लेकिन मामूली अंतर से नॉकआउट में जगह बनाने से चूक गई। 

कतर का पलड़ा है भारी
भारत के खिलाफ कतर का पलड़ा भारी रहा है, जिससे चार में से तीन मैचों में जीत दर्ज की है जबकि एक मैच ड्रॉ रहा। दोनों टीमों के बीच पिछला आधिकारिक मैच सितंबर 2007 में विश्व कप क्वॉलिफायर में खेला गया, जिसमें कतर से भारत को 6-0 से रौंदा था।

भारत ने 2011 में दोहा में मैत्री मैच में कतर को 2-1 से हराया था, लेकिन इसे आधिकारिक मैच नहीं माना गया क्योंकि भारत ने नियमों से अधिक स्थानापन्न खिलाड़ियों का इस्तेमाल किया था।

सुनील छेत्री ने माना- कड़ा होगा मुकाबला
ओमान के खिलाफ भारत की ओर से एकमात्र गोल करने वाले कप्तान सुनील छेत्री ने भी स्वीकार किया कि मंगवार का मैच अधिक कड़ा होगा। छेत्री ने कहा, ''हम हालांकि मैच को लेकर उत्सुक हैं... हम किसी भी टीम से खेलें, कड़ी टक्कर देंगे। हमें सुनिश्चित करना होगा कि हम उन छोटी गलतियों को नहीं दोहराएं जिसके कारण हमने ओमान के खिलाफ तीन अंक गंवाए।''

गोपीचंद से एक मुलाकात ने ऐसे बदल दी मानसी जोशी की किस्मत

कोच बोले, टीम को बहुत कुछ सीखने को मिलेगा
भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच इगोर स्टीमाक का मानना है कि कतर के खिलाफ होने वाले फीफा विश्व कप-2022 क्वॉलिफायर मैच से उनकी टीम को बहुत कुछ सीखने को मिलेगा। उन्होंने कहा, “कतर ग्रुप में सबसे मजबूत टीम है और उनके खिलाफ खेलना आसान नहीं होगा। हालांकि, यह सीखने का एक बेहतरीन मौका है।”  कोच ने कहा, “हमें चार-पांच खिलाड़ियों को बदलना भी होगा। डरने का कोई कारण नहीं है और हमें अच्छा फुटबॉल खेलते हुए गोल करने पर ध्यान केंद्रित करना होगा।”  

वहीं, भारतीय टीम के मिडफील्डर आशिक कुरुनियन ने कहा है कि उनकी टीम इस मैच में अपना सबकुछ झोंकने के लिए तैयार है। आशिक ने कहा, “पूरी टीम अपने काम पर ध्यान लगाए हुई है। कतर की टीम एशियाई चैम्पियन है, लेकिन हम भी उन्हें हराने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे और अपनी रणनीतियों को सही से मैदान पर लागू करेंगे। एक दिन यात्रा में निकल जाने के बाद हमारा पहला सत्र काफी अच्छा रहा है और हम मैच के लिए तैयार हैं।”

22 साल के खिलाड़ी ने कहा, “मुख्य कोच (इगोर स्टीमाक) हमें काफी प्रोत्साहित कर रहे हैं और हमारे प्रदर्शन में सुधार कर रहे हैं। उन्होंने हमसे कहा है कि हमें बिना किसी भय के खेलना है। कोई भी टीम अब तक अपराजित नहीं रही है और हम कतर के खिलाफ भी इसी सोच के साथ उतरेंगे।” 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:India Face Asian Champions Qatar in Their Toughest 2022 FIFA World Cup Qualifier