DA Image
हिंदी न्यूज़ › खेल › कोविड-19: पैसे जुटाने के लिए सीरीज में भाग लेंगे भारत में जन्में फाइटर गुरदर्शन मंगत
खेल

कोविड-19: पैसे जुटाने के लिए सीरीज में भाग लेंगे भारत में जन्में फाइटर गुरदर्शन मंगत

एजेंसी,नई दिल्लीPublished By: Mridula
Fri, 17 Apr 2020 06:52 AM
कोविड-19: पैसे जुटाने के लिए सीरीज में भाग लेंगे भारत में जन्में फाइटर गुरदर्शन मंगत

भारतीय मूल के कनाडाई एमएमए (मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स) फाइटर गुरदर्शन मंगत एक सीरीज में हिस्सा लेंगे, जिसका उद्देश्य विश्व भर को अपनी चपेट में लेने वाली कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए धनराशि जुटाना है। इस सीरीज का नाम 'टुगेदर एट होम' है, जिसमें प्रशंसकों को कोरोना वायरस महामारी के दौरान एमएमए खिलाड़ियों की जीवनशैली के बारे में पता चलेगा। 
इसमें 18 और 19 अप्रैल को घर में फिटनेस बनाए रखने के लिए विभिन्न व्यायाम के बारे में बताया जाएगा। इस सीरीज का उद्देश्य विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) कोविड कोष के लिए धन जुटाना तथा लोगों को घर में रहने और सामाजिक दूरी बनाए रखने लिए प्रोत्साहित करना है। 

एशियाई इतिहास की सबसे बड़ी वैश्विक खेल मीडिया प्रॉपर्टी वन चैंपियनशिप (वन) ने एक बार फिर अपने पुराने साझेदार ग्लोबल सिटीजंस के साथ मिलकर 'टुगेदर एट होम' सीरीज का निर्माण किया है। यह कोविड-19 का फैलाव रोकने की खास पहल है। वन चैंपियनशिप बेंटमवेट के उभरते स्टार गुरदर्शन 'सेंट लायन' मंगत को आइसोलेशन में देखने का मौका उनके चाहने वालों के लिए बहुत खास होगा। 

कोविड-19 के खिलाफ कबड्डी खिलाड़ी अच्छी लड़ाई लड़ेंगे, इसका भरोसा है: पीएम मोदी

इस शानदार पहल से मंगत वन  हैवीवेट वर्ल्ड चैंपियन ब्रैंडन 'द ट्रुथ' वेरा, वन वीमेन ऐटमवेट वर्ल्ड चैंपियन एंजेला, 'अनस्टॉपेबल' ली और वन चैंपियनशिप उपाध्यक्ष मीशा 'कपकेक' टेट आदि से जुड़ेंगे। इस सीरीज का मकसद विश्व स्वास्थ्य संगठन के कोविड-सॉलिडरीटी फंड के लिए धन जुटाने के साथ लोगों को घर और चारदीवारी के अंदर रहने तथा सामाजिक दूरी बनाने रखने के लिए प्रोत्साहित करना है।

वन चैंपियनशिप स्टार्स में एक मंगत ने कहा, “मैं सालों से इस चैरिटी संगठन ग्लोबल सिटीजन की गतिविधियों को देख रहा हूं। वन ने इसके साथ काम जारी रखा जिससे मैं बहुत उत्साहित हूं। ये बेजोड़ संगठन हैं जिनके साथ काम करने के लिए मैंने पहले भी उनसे संपर्क में रहा हूं। मैं उनके साथ अलग-अलग देशों में उनके मिशन पर जाना चाहता हूं जहां जरूरतमंद बच्चों और परिवारों की मदद करने का अवसर मिलेगा। मुझे विश्वास है कि यह तो बस शुरुआत है। आने वाले समय में मुझे बहुत कुछ करना है।” 

एथलीट घबराएं नहीं, आठ माह मिलेंगे ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने को

कोरोनो को रोकने के लिए पूरी दुनिया के लोगों को घर के अंदर रहने की सलाह दी गई है। इससे प्रमुख खेल और ऐसे अन्य आयोजन रुक गए हैं, लेकिन कोविड-19 में सबसे अलग रहने के बावजूद मंगत में उत्साह की कोई कमी नहीं आई है। वह इस अनुभव को जीवन के अन्य अवसरों को जानने का मौका मानते हैं। यह एक पेशेवर एथलीट के लिए बेहद जरूरी खूबी है जो मंगत में है। मंगत ने अचानक मिले इस फुर्सत में सबसे पहले और सबसे अधिक ट्रेडिंग और शेयर बाजार की जटिल दुनिया को जाने की चाहत पूरी की है।

संबंधित खबरें