DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

#MeToo कैम्पेन: 14 बार की नेशनल बैडमिंटन चैम्पियन ज्वाला गुट्टा ने भी सुनाई अपनी आपबीती

बैडमिंटन में 14 बार की नेशनल चैम्पियन ज्वाला गुट्टा ने अपने ट्वीट में किसी चीफ का जिक्र किया है।

Jwala Gutta.jpg

महिलाओं और लड़कियों के साथ हुए उत्पीड़न को लेकर सोशल मीडिया पर चल रहे '#Metoo' कैम्पेन के साथ एक और बड़ी हस्ती जुड़ गई हैं। भारत की महिला बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा ने भी अपने साथ उत्पीड़न के बारे में ट्विटर पर लिखा है। ज्वाला गुट्टा ने एक के बाद एक कई ट्वीट्स में शोषण के बारे में अपना अनुभव साझा किया है। हालांकि ज्वाला ट्वीट में कहा है कि उन्हें सेक्सुअल हरासमेंट का शिकार तो नहीं होना पड़ा पर जबरदस्त तरीके से मेंटल हरासमेंट का सामना करना पड़ा। इसकी वजह से उनका बैडमिंटन करियर भी तबाह हो गया। बैडमिंटन में 14 बार की नेशनल चैम्पियन ज्वाला गुट्टा ने अपने ट्वीट में किसी चीफ का जिक्र किया है। 

ट्वीट कर किसी चीफ पर लगाए हैं आरोप
उनके खुलासे से यह जाहिर हो रहा है कि वह शायद बैडमिंटन एशोसिएशन ऑफ इंडिया (बाई) के अध्यक्ष की बात कर रही हैं। ज्वाला ने अपने ट्वीट्स में लिखा है, 'साल 2006 में यह व्यक्ति चीफ बना और मुझे राष्ट्रीय चैम्पियन होने के बावजूद भारत की टीम से बाहर कर दिया गया। पिछली बार जब मैं रियो से वापस आई मुझे फिर राष्ट्रीय टीम से बाहर कर दिया गया जिसके बाद मैंने खेलना छोड़ दिया।' गौरतलब है कि वीके शर्मा जब बैडमिंटन एशोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष थे तब कई बार ज्वाला गुट्टा विवादों के घेरे में आई थीं, उन्होंने एसोसिएशन पर भेद-भाव करने का आरोप लगाया था।

#MeToo Campaign: रेप के आरोप को आलोक नाथ ने बताया 'बेतुका', कहा- कुछ तो लोग कहेंगे

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Fourteenth Time National Badminton Champion Jwala Gutta shares his Me too Moment and blames some Chief to ruined he career