DA Image
18 अक्तूबर, 2020|2:21|IST

अगली स्टोरी

पूर्व कप्तान और महान फुटबॉलर पीके बनर्जी का निधन, कोलकाता में ली आखिरी सांस

1961 में अजुर्न पुरस्कार और 1990 में पद्म श्री से नवाजे जा चुके बनर्जी 1962 में एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाली टीम के सदस्य थे। बनर्जी ने फाइनल में भारत के लिए गोल भी किया था।

pradip kumar banerjee

भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान और महान खिलाड़ी रह चुके प्रदीप कुमार बनर्जी का शुक्रवार को निधन हो गया। पीके बनर्जी ने कोलकाता में आखिरी सांस ली और उनके पारिवारिक सूत्रों ने निधन की पुष्टि की है। वो 83 साल के थे और पिछले कुछ समय से काफी बीमार चल रहे थे।

बनर्जी पिछले महीने भर से सीने में इंफेक्शन से जूझ रहे थे। बीते दिनों स्वास्थ्य खराब होने के बाद उन्हें कोलकाता के मेडिका सुपरस्पेशिएलिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बनर्जी कई दिनों से फुल सपोर्ट वेंटिलेटर पर थे लेकिन शुक्रवार को तमाम कोशिशों के बावजूद उन्हें नहीं बचाया जा सका। 1961 में अजुर्न पुरस्कार और 1990 में पद्म श्री से नवाजे जा चुके बनर्जी 1962 में एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाली टीम के सदस्य थे। बनर्जी ने फाइनल में भारत के लिए गोल भी किया था।

कोरोना की वजह से स्पेनिश-मोनाको और डच फार्मूला वन ग्रां प्री स्थगित

अजुर्न पुरस्कार की शुरुआत 1961 में हुई थी और यह पुरस्कार पहली बार बनर्जी को ही दिया गया था। अपने करियर में पीके बनर्जी ने कुल 45 फीफा एक क्लास मैच खेले और 14 गोल किए। वैसे उनका करियर 85 मैचों का था, जिनमें उन्होंने कुल 65 गोल किए। तीन एशियाई खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले पीके बनर्जी ने दो बार ओलंपिक में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया। फुटबॉल के लिए उनकी सेवाओं के लिए फीफा ने 2004 में अपने सवोर्च्च सम्मान-फीफा ऑर्डर ऑफ मेरिट से सम्मानित किया।

कोरोना वायरस को लेकर लिएंडर पेस ने लोगों से की शांति की अपील

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Former Indian football captain Pradip Kumar Banerjee PK Banerjee passes away at 8