फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ खेलFIFA World Cup 2022: कतर के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, फीफा वर्ल्ड कप के 92 साल के इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा

FIFA World Cup 2022: कतर के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, फीफा वर्ल्ड कप के 92 साल के इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा

वहीं ग्रुप ए के अन्य मैच में नीदरलैंड और इक्वाडोर ने 1-1 से ड्रॉ खेलकर कतर की रवानगी तय कर दी। पिछले 12 साल से विश्व कप की तैयारी कर रही कतर की टीम एक सप्ताह भी टूर्नामेंट में टिक नहीं सकी।

FIFA World Cup 2022: कतर के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, फीफा वर्ल्ड कप के 92 साल के इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा
Lokesh Kheraएजेंसी, भाषा,दोहाSat, 26 Nov 2022 05:54 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

सेनेगल के हाथों लगातार दूसरी पराजय और इक्वाडोर तथा नीदरलैंड का मैच ड्रॉ रहने के बाद मेजबान कतर पहले ही हफ्ते में विश्व कप से बाहर हो गया। कतर की टीम के रक्षण में हुई चूक का पूरा फायदा उठाते हुए सेनेगल ने पहला गोल दागा और उसे शुक्रवार को खेले गए मुकाबले में 3-1 से हराया।

FIFA World Cup 2022 : पांच बार की चैंपियन ब्राजील को लगा बड़ा झटका, चोट के कारण नेमार स्विटजरलैंड मुकाबले से हुए बाहर

वहीं ग्रुप ए के अन्य मैच में नीदरलैंड और इक्वाडोर ने 1-1 से ड्रॉ खेलकर कतर की रवानगी तय कर दी। पिछले 12 साल से विश्व कप की तैयारी कर रही कतर की टीम एक सप्ताह भी टूर्नामेंट में टिक नहीं सकी।

इसके साथ ही विश्व कप के 92 वर्ष के इतिहास में कतर सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली मेजबान टीम बन गई। पहले मैच में उसे इक्वाडोर ने 2-0 से हराया था।

दूसरी ओर पहले मैच में डच टीम से हारी सेनेगल टीम ने अपने अभियान को इस जीत के साथ ढर्रे पर लाया। स्ट्राइकर बुलाये डिया ने कतर के डिफेंडर बुआलेम खाउखी की गलती का फायदा उठाकर पहला गोल कर दिया।

FIFA World Cup 2022 : एक्स्ट्रा टाइम में ईरान ने वेल्स के खिलाफ कर दिया खेला, 90 मिनट के बाद दो गोल करके हासिल किए तीन अंक

फमारा डी ने दूसरे हाफ की शुरूआत में टीम की बढत दुगुनी कर दी। कतर के लिये सब्स्टीट्यूट मोहम्मद मुंतारी ने एक गोल दागा लेकिन छह मिनट बाद ही बाम्बा डिऐंग ने गोल करके सेनेगल को 3-1 से बढत दिला दी।

विश्व कप 2010 की मेजबान दक्षिण अफ्रीका ग्रुप चरण से बाहर होने वाली अकेली मेजबान टीम थी। दक्षिण अफ्रीका ने हालांकि तीन मैचों में से एक जीता और एक ड्रॉ खेला था। कतर ने पहली बार विश्व कप की मेजबानी पर 220 अरब डॉलर खर्च किये हैं लेकिन एक विश्व स्तरीय फुटबॉल टीम नहीं उतार सका।