फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ खेलFIFA WC 2018:'ग्रुप G' में इंग्लैंड और बेल्जियम के बीच होगा असली रोमांच

FIFA WC 2018:'ग्रुप G' में इंग्लैंड और बेल्जियम के बीच होगा असली रोमांच

फीफा विश्व कप 2018 के ग्रुप ‘जी' में इंग्लैंड और बेल्जियम के बीच असली रोमांच देखने को​ मिलेगा। इस ग्रुप में की अन्य दो टीमें पनाम-ट्यूनीशिया हैं।इस ग्रुप की चारों टीमों पर सुफल भट्टाचार्य की...

Deepakलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 06 Jun 2018 07:48 PM

इंग्लैंड को 52 सालों से है विश्व खिताब जीतने का इंतजार

इंग्लैंड को 52 सालों से है विश्व खिताब जीतने का इंतजार1 / 4

फीफा विश्व कप 2018 के ग्रुप ‘जी' में इंग्लैंड और बेल्जियम के बीच असली रोमांच देखने को​ मिलेगा। इन दोनों टीमों के लिए अंतिम-16 की राह कमोबेश आसान लग रही है। इस ग्रुप में शामिल पनामा ने पहली बार वर्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई तो कर लिया है, लेकिन उसके लिए फुटबॉल महाकुंभ में ग्रुप स्टेज से आगे बढ़ना काफी चुनौतीपूर्ण होगा। हां, इस ग्रुप की चौथी टीम ट्यूनीशिया जरूर उलटफेर का दम रखती है। इस ग्रुप की चारों टीमों पर सुफल भट्टाचार्य की रिपोर्ट...

FIFA WC 2018: वेश्याओं के साथ पार्टी कर विवाद में फंसी मैक्सिको की टीम

इंग्लैंड को 52 सालों से है विश्व खिताब जीतने का इंतजार
फुटबॉल की दुनिया में इंग्लैंड का खास महत्व है। शायद इंग्लिश प्रीमियर लीग की चमक-दमक इसकी बड़ी वजह है। पर एक देश के तौर पर इंग्लैंड विश्व फुटबॉल में खुद को साबित नहीं कर पा रहा है। क्या इंग्लैंड 52 साल बाद वर्ल्ड कप जीतने की स्थिति में है? यह एक अनसुलझा सवाल है। 2009 के बाद इस टीम को एक भी क्वालिफाइंग मैच में हार का सामना नहीं करना पड़ा। टीम का यह लगातार छठा वर्ल्ड कप है। 2006 के बाद इंग्लैंड ने अंतिम-16 से आगे का रास्ता तय नहीं किया है। यूरो 2016 में इंग्लैंड की जल्दी छुट्टी हो गई थी। पिछले साल अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल को अलविदा कहने वाले वायने रूनी टीम के साथ नहीं है। कोच गैरेथ साउथगेट को रूस में हैरी केन पर भरोसा करना होगा। इंग्लैंड का मिडफील्ड और डिफेंस कमजोर है लेकिन आक्रमण में वे भारी पड़ सकते हैं। इंग्लैंड की उम्मीदें हैरी केन पर टिकी होंगी। मैनचेस्टर सिटी के रहीम स्टर्लिंग टीम की नई सनसनी है। एरिक डायर भी बेहतर खिलाड़ी हैं। वह मिडफील्ड या सेंटर बैक की पोजीशन में नजर आ सकते हैं। 

खास खिलाड़ी: हैरी केन, रहीम स्टर्लिंग, मार्कर्स रैशफोर्ड

कोच: गैरेथ साउथगेट

पसंदीदा शैली: 3-4-2-1

14 बार वर्ल्ड कप में खेले

01 बार खिताब जीता

फीफा रैंकिंग: 13 

विश्व कप में मैच
18 जून: इंग्लैंड vs ट्यूनीशिया
24 जून: इंग्लैंड vs पनामा
28 जून: इंग्लैंड vs बेल्जियम

क्वालीफाइंग राउंड में अजेय रही 'रेड डेविल्स' बेल्जियम की टीम

क्वालीफाइंग राउंड में अजेय रही 'रेड डेविल्स' बेल्जियम की टीम2 / 4

वर्ल्ड कप क्वालिफाइंग दौर के मैचों में ‘रेड डेविल्स' बेल्जियम को कोई टीम हरा नहीं पाई। टीम ने दस मैचों में 28 अंक हासिल किए और 43 गोल किए। रोमेलु लुकाकू टॉप स्कोरर रहे। मैनचेस्टर यूनाइटेड के लुकाकू ने अकेले 11 गोल दागे। केविन डि ब्रुइन, रोमेलु लुकाकू, इडेन हेजार्ड, विंसेंट कोम्पानी जैसे खिलाड़ियों से सजी बेल्जियम वर्ल्ड कप में खिताब के बेहद करीब जा सकती है। टीम का मिडफील्ड और आक्रमण बढ़िया है। डि ब्रुइन, लुकाकू और हेजार्ड की तिकड़ी बेहद खतरनाक है। हेजार्ड के बारे में तो कहा जा रहा है कि वह अगले सत्र में रियाल मैड्रिड की टीम में क्रिस्टियानो रोनाल्डो का स्थान लेंगे। ब्रुइन दुनिया के सर्वश्रेष्ठ मिडफील्डर माने जाते हैं। पर इस टीम के रक्षण में कुछ खामियां हैं। 

 

FIFA WC 2018:रूस के इन 12 स्टेडियम्स में होगा मैचों का आयोजन

खास खिलाड़ी: रोमेलू लुकाकू, केविन डि ब्रुइन, इडेन हेजार्ड

पसंदीदा शैली: 3-4-2-1

कोच: रोबर्टो मार्टिनेज

12 बार वर्ल्ड कप में खेले

00 एक बार भी खिताब नहीं जीता

फीफा रैंकिंग: 03 

विश्व कप में मैच
18 जून: बेल्जियम vs पनामा 
23 जून: बेल्जियम vs ट्यूनीशिया
28 जून: बेल्जियम vs इंग्लैंड

ट्यूनीशिया की फुटबॉल टीम में है उलटफेर करने का दम

ट्यूनीशिया की फुटबॉल टीम में है उलटफेर करने का दम3 / 4

ट्यूनीशिया की बारह साल बाद वर्ल्ड कप में वापसी हुई है। बीते एक साल के दौरान कोच पद को लेकर काफी खींचतानी हुई। 2017 में अफ्रीकी नेशंस कप में हार के बाद नाबिल मालॉल की नियुक्ति हुई। वैसे 2004 में अफ्रीकी नेशंस कप जीतने के बाद ट्यूनीशिया को कोई खास सफलता नहीं मिली है। टीम का वर्ल्ड कप रिकार्ड अच्छा नहीं है। हालांकि वर्तमान कोच नाबिल का रिकार्ड उम्दा है। वर्ल्ड रैंकिंग में 14 वें स्थान पर काबिज ट्यूनीशिया के लिए इंग्लैंड और बेल्जियम को हराकर अंतिम-16 में पहुंचना आसान नहीं होगा।

FIFA WC 2018:फुटबॉल महाकुंभ में इस बार नहीं दिखेंगी ये 6 बड़ी टीमें

खास खिलाड़ी: वाबी खाजरी, यूसुफ मस्कानी, अयमान अबदेनोर

कोच: नाबिल मालॉल

पसंदीदा शैली: 4-2-3-1

04 बार वर्ल्ड कप में खेले

00 एक बार भी खिताब नहीं जीता

फीफा रैंकिंग: 14 

विश्व कप में मैच
18 जून: ट्यूनीशिया vs इंग्लैंड
23 जून: ट्यूनीशिया vs बेल्जियम
28 जून: ट्यूनीशिया vs पनामा

क्वालीफायर्स में भाग्य के सहारे ​पनामा ने कटाया विश्व कप का टिकट

क्वालीफायर्स में भाग्य के सहारे ​पनामा ने कटाया विश्व कप का टिकट4 / 4

पनामा का वर्ल्ड कप का सफर दिलचस्प रहा। क्वालीफायर्स में यह टीम अमेरिका से सिर्फ एक अंक आगे रही जबकि होंडुरास से गोल औसत में आगे होने की वजह से उसे वर्ल्ड कप का टिकट मिल गया। पनामा ने विश्व कप के लिए पहली बार क्वालीफाई किया तो पूरे देश में राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया गया। पनामा बड़ी टीमों को टक्कर देने की क्षमता रखता है। टीम ने उत्तरी, मध्य अमेरिकी कन्फेडरेशन और कैरिबियाई फुटबॉल संघ (कॉनकॉफ) के क्वालिफिकेशन के बाद वर्ल्ड कप का टिकट पाया है। गोलकीपर जैमी पेनेडो की खास भूमिका होगी। इसके अलावा रोमन टोरेस भी शानदार खिलाड़ी हैं।

FIFA WC 2018:रूस के इन 12 स्टेडियम्स में होगा मैचों का आयोजन

खास खिलाड़ी: जेमे पेनेडो, रोमन टोरेस

कोच: हरनान डेरियो गोमेज

पसंदीदा शैली: 4-4-2

पहला वर्ल्ड कप है

फीफा रैंकिंग: 55 

विश्व कप में मैच
18 जून: पनामा vs बेल्जियम
28 जून: पनामा vs ट्यूनीशिया
24 जून: पनामा vs इंग्लैंड