DA Image
27 मार्च, 2020|2:50|IST

अगली स्टोरी

ओलंपिक स्थगित होने पर बोलीं विनेश फोगाट, सबसे बुरा डर सच हो गया

vinesh phogat photo ht

भारत की पदक की दावेदार महिला पहलवान विनेश फोगाट ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक का स्थगित होना उनका ‘सबसे बुरा सपना’ था और आगे का लंबा इंतजार इन खेलों में भाग लेने से अधिक कड़ा होगा। कोविड-19 महामारी के कारण टोक्यो ओलंपिक 2020 को अगले साल तक स्थगित कर दिया गया है और जब विनेश को इसका पता चला तो वह निराशा में डूब गई।

विनेश ने ट्विटर पर जारी बयान में कहा, ‘‘यह किसी भी खिलाड़ी का सबसे बुरा सपना होता है और यह सच साबित हुआ। सभी जानते हैं कि ओलंपिक में खेलना एक खिलाड़ी के लिये सबसे मुश्किल चुनौती होती है लेकिन अब इस स्तर पर मौके का इंतजार करना उससे भी कड़ा है।’’

कोरोना वायरस से लड़ने की खातिर हिमा दास ने दान की 1 महीने की सैलरी

उन्होंने कहा, ‘‘मैं वास्तव में नहीं जानती कि अभी क्या कहना है लेकिन मेरे अंदर भावनाओं का ज्वार उमड़ रहा है।’’ रियो ओलंपिक से चोट के कारण जल्दी बाहर हुई विनेश भारत की पदक उम्मीदों में से है।उसने पिछले साल विश्व चैम्पियनशिप में पदक जीतकर टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई किया था। 

उन्होंने कहा, ‘‘दुनिया के लिए यह कठिन समय है। मैं भी निराश हूं लेकिन हमें निराशा में ही आशा की किरण तलाशनी होगी।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Every Athletes Worst Fear Has Come True says Vinesh Phogat on Olympic Postponement