फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News खेलडी गुकेश ने रचा इतिहास, 17 साल की उम्र में जीता कैंडिडेट्स शतरंज टूर्नामेंट; ये कमाल करने वाले दूसरे भारतीय

डी गुकेश ने रचा इतिहास, 17 साल की उम्र में जीता कैंडिडेट्स शतरंज टूर्नामेंट; ये कमाल करने वाले दूसरे भारतीय

D Gukesh Wins the FIDE Candidates tournament: डी गुकेश ने कैंडिडेट्स शतरंज टूर्नामेंट जीत लिया है। उन्होंने 17 साल की उम्र में इतिहास रच डाला। उन्होंने सबसे कम उम्र में यह टूर्नामेंट जीता है।

डी गुकेश ने रचा इतिहास, 17 साल की उम्र में जीता कैंडिडेट्स शतरंज टूर्नामेंट; ये कमाल करने वाले दूसरे भारतीय
Md.akram लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 22 Apr 2024 11:17 AM
ऐप पर पढ़ें

भारत के युवा ग्रैंडमास्टर डी गुकेश ने सोमवार को टोरंटो में इतिहास रच डाला। उन्होंने 17 साल की उम्र में कैंडिडेट्स शतरंज टूर्नामेंट अपने नाम कर लिया है। वह सबसे कम उम्र में यह टूर्नामेंट जीतने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। गुकेश पांच बार के वर्ल्ड चैंपियन विश्वनाथन आनंद के बाद कैंडिडेट्स टूर्नामेंट जीतने वाले दूसरे भारतीय प्लेयर हैं। आनंद ने साल 2014 में इस टूर्नामेंट को जीता था। गुकेश वर्ल्ड चैंपियनशिप खिताब के सबसे युवा चैलेंजर बन गए हैं।

गुकेश ने अंतिम राउंड में अमेरिके के हिकारू नाकामुरा के साथ ड्रॉ खेला। उन्होंने टूर्नामेंट में 14 में से नौ अंक अर्जित किए। इस टूर्नामेंट का आयोजन वर्ल्ड चैंपियन को चुनौती देने वाले खिलाड़ी को चुनने के लिए होता है। गुकेश को अब इस साल के आखिर में चीन के डिंग लिरिन के विरुद्ध खेलने का अवसर मिलेगा। उन्होंने रूस के गैरी कास्पोरोव का 40 साल पुराना रिकॉर्ड ध्वस्त किया है, जिन्होंने 1984 में 22 साल की उम्र में कैंडिडेट्स जीता।

चेन्नई के रहने वाले गुकेश ने टूर्नामेंट जीतने के बाद  प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ''फिलहाल मैं बहुत राहत महसूस कर रहा हूं और बहुत खुश हूं। मैं, फैबियानो कारुआना और इयान नेपोमनियाचची का रोमांचक खेल देखते समय भावुक हो गया था, अब मैं काफी अच्छा महसूस कर रहा हूं।" उन्होंने आगे कहा, "मुझे वाकई में सबसे कम उम्र और इन सभी रिकॉर्डों की परवाह नहीं है लेकिन आप जानते हैं कि यह कहने में अच्छे लगता है।''

गुकेश के ऐताहिसिक उपलब्धि हासिल करने पर सोशल मीडिया पर बधाइयों का तांता लग गया है। विश्वनाथन आनंद ने भी उन्हें बधाई दी है। आनंद ने 'एक्स' पर लिखा, '' सबसे कम उम्र का चैलेंजर बनने के डी गुकेश को बधाई। आपने जो किया है उस पर बहुत गर्व है। आपने जिस तरह खेला और कठिन परिस्थितियों को हैंडल किया, उस पर मुझे व्यक्तिगत रूप से बहुत गर्व है। इस पल को इंजॉय करें।''