फोटो गैलरी

Hindi News खेलचाइना मास्टर्सः प्रणय और सात्विक-चिराग की जोड़ी क्वॉर्टर फाइनल में

चाइना मास्टर्सः प्रणय और सात्विक-चिराग की जोड़ी क्वॉर्टर फाइनल में

भारत के चिराग और सात्विक ने भी जापान के अकिरा कोगा और ताइची सेइतो को 21-15, 21-16 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। अब उनका सामना इंडोनेशिया के लियो रोली कार्नांडो और डेनियल मार्टिन से होगा।

चाइना मास्टर्सः प्रणय और सात्विक-चिराग की जोड़ी क्वॉर्टर फाइनल में
Namita Shuklaभाषा,शेनझेनThu, 23 Nov 2023 03:57 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत के अनुभवी बैडमिंटन खिलाड़ी एच एस प्रणय और एशियन गेम्स की गोल्ड मेडलिस्ट जोड़ी सात्विक साइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी गुरुवार को चाइना मास्टर्स में अपने अपने वर्ग के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। वर्ल्ड चैम्पियनशिप के ब्रोन्ज मेडल जीतने वाले प्रणय ने डेनमार्क के मैग्नस योहानसेन को 21-12, 21-18 से हराया। मेंस सिंगल्स में प्रणय अकेले भारतीय खिलाड़ी बचे हैं। आठवीं वरीयता प्राप्त प्रणय का सामना अब जापान के तीसरी वरीयता प्राप्त कोडाइ नाराओका से होगा।

लक्ष्य, श्रीकांत पहले दौर में बाहर, सात्विक और चिराग पर नजरें

शीर्ष वरीयता प्राप्त चिराग और सात्विक ने भी जापान के अकिरा कोगा और ताइची सेइतो को 21-15, 21-16 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। अब उनका सामना इंडोनेशिया के लियो रोली कार्नांडो और डेनियल मार्टिन से होगा। प्रणय ने जापानी खिलाड़ी के खिलाफ अच्छी शुरुआत करके पहले गेम में 6-1 की बढ़त बना ली। डेन ने बाद में यह अंतर 8-6 का और 14-11 का कर दिया।

इसके बाद प्रणय ने अपने सारे अनुभव का इस्तेमाल करके पहला गेम जीता । दूसरे गेम में मुकाबला बराबरी का रहा और 15 अंक तक दोनों ने जबर्दस्त खेल दिखाया। एक समय पर 18-18 से स्कोर बराबर था लेकिन प्रणय ने आखिरी पलों में दबाव बनाकर जीत दर्ज की। इससे पहले चाइना मास्टर्स में भारत के स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन और किदांबी श्रीकांत दोनों ही मेंस सिंगल्स में पहले राउंड ही राउंड में हारकर बाहर हो गए थे।

नीरज यादव डोप जांच में विफल, दो स्वर्ण गंवा सकता है भारत

लक्ष्य सेन रैंकिंग में 17वें नंबर पर हैं, और इसी साल उन्होंने कनाडा ओपन भी जीता था। वहीं रैंकिंग में नंबर-24 पर काबिज श्रीकांत को भी हार का सामना करना पड़ा। वर्ल्ड टूर में लगातार तीसरे टूर्नामेंट में श्रीकांत पहले राउंड में हारकर बाहर हुए हैं। अगले साल 28 अप्रैल तक लक्ष्य और श्रीकांत को रैंकिंग में टॉप-16 में जगह बनानी होगी, तभी वह पेरिस ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई कर पाएंगे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें