DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अर्जुन अवॉर्डी बॉक्सर जय भगवान पर गंभीर आपराधिक धाराओं में दर्ज हुआ केस

जय भगवान पर आरोप है कि उन्होंने 19 मई को हिसार के लक्ष्मी विहार कॉलोनी स्थित शराब ठेके की जांच करने पहुंची महिला इंस्टपेक्टर नीलम वत्स से अभद्रता की।

Boxer Jai Bhagwan

पुलिस ने अर्जुन अवॉर्डी बॉक्सर जय भगवान पर एक्साइज और टैक्सेसन डिपार्टमेंट की एक महिला इंस्पेक्टर के साथ कथित तौर पर अभद्रता करने के आरोप में एफआईआर दर्ज किया है। जय भगवान पर आरोप है कि उन्होंने 19 मई को हिसार के लक्ष्मी विहार कॉलोनी स्थित शराब ठेके की जांच करने पहुंची महिला इंस्टपेक्टर नीलम वत्स से अभद्रता की। गौरतलब है कि जय भगवान भी स्पोर्ट्स कोटे से ​हरियाणा पुलिस में इंस्टपेक्टर पद पर कार्यरत हैं और उनकी पोस्टिंग फिलहाल फतेहाबाद में है। वह हिसार के लक्ष्मी विहार कॉलोनी में ही रहते हैं। जय भगवान ने 19 मई को हिसार के डेप्यूटी एक्साइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर (DETC) एसएस सिवाच को खुद फोन किया और लक्ष्मी विहार स्थित शराब ठेके की जांच कराने की मांग की। जय भगवान का कहना था कि यह शराब ठेका गैरकानूनी तरीके से चल रहा है।

फीफा विश्व कप 2018 से जुड़ी खबरों के लिए लिंक पर क्लिक करें 

महिला अधिकारी को थप्पड़ जड़ने और बंधक बनाने का आरोप
उनकी मांग पर डीईटीसी एसएस सिवाच ने विभाग की महिला इंस्पेक्टर नीलम वत्स को ठेके की जांच के लिए भेजा। महिला इंस्टपेक्टर वत्स रात 9 बजे के करीब अपने पति के साथ उस शराब ठेके की वैधता जांचने पहुंची। अपनी जांच के बाद नीलम वत्स ने जय भगवान से कहा कि वह शराब ठेका स्टेट एक्साइज पॉलिसी के मुताबिक ही स्थापित किया गया है और अवैध नहीं है। इसके बाद जय भगवान ने महिला अधिकारी से शराब ठेके की वैधता ठहराने वाले कागजत दिखाने की मांग की। महिला अधिकारी का आरोप है कि जय भगवान ने कुछ और लोगों के साथ मिलकर उन्हें थप्पड़ जड़े और उनकी आॅफिशियल कार में घंटे भर तक बंधक बनाए रखा।

FIFA WC 2026: हो गया फैसला,जानिए कौन करेगा 2026 में फुटबॉल कप का आयोजन

जय भगवान पर गंभीर आपराधिक धाराओं में तहत केस दर्ज
नीलम वत्स ने अपने साथ हुई अभद्रता और मारपीट का मामला अपने वरिष्ठ अधिकारियों तक पहुंचाया। जिसके बाद अधिकारियों ने हिसार के डेप्यूटी कमिश्नर अशोक कुमार मीणा को जय भगवान के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए खत लिखा। हिसार पुलिस ने बॉक्सर जय भगवान पर भारतीय दंड संहिता की धारा 147 (दंगा), 149 (गैरकानूनी तरीके से भीड़ इकठ्ठी करना), 353 (किसी सरकारी अधिकारी को बल पूर्वक उसकी ड्यूटी निभाने से रोकना या बाधा पहुंचाना), 342 (बंधक बनाना) और 186 (सरकारी अधिकारी को उसकी ड्यूटी करने से रोकना) के तहत केस दर्ज किया है।

FIFA WC 2018: जब खिलाड़ियों ने बरसाए लात-घूंसे, बीच मैच में पहुंच गई पुलिस, देखें VIDEO

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Boxer Jai Bhagwan booked under serious charges by Haryana Police for assaulting woman official