DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   खेल  ›  कोरोना की वजह से एशियाई कप 2027 की मेजबानी का दावा करने की समयसीमा बढ़ी

खेलकोरोना की वजह से एशियाई कप 2027 की मेजबानी का दावा करने की समयसीमा बढ़ी

एजेंसी,हांगकांगPublished By: Mridula
Thu, 02 Apr 2020 12:52 PM
कोरोना की वजह से एशियाई कप 2027 की मेजबानी का दावा करने की समयसीमा बढ़ी

एशियाई फुटबॉल परिसंघ (एएफसी) ने कोरोना वायरस महामारी के कारण पैदा हुए संकट को देखते हुए गुरुवार को एशियाई कप 2027 की मेजबानी का दावा करने की समयसीमा बढ़ा दी। एएफसी ने बयान में कहा कि अब मेजबानी का दावा 30 जून तक किया जा सकता है। पहले यह समयसीमा 31 मार्च तक थी। 

इसमें कहा गया है, ''यह फैसला कोविड-19 महामारी के कारण वर्तमान स्थिति को देखते हुए लिया गया है। इससे हमारे सदस्य संघों को अपनी तैयारियों के लिये पर्याप्त समय मिल जाएगा।''  वहीं, चीन 2023 में अगले एशियाई कप की मेजबानी करेगा लेकिन 2027 के टूर्नामेंट के आयोजन के लिए अभी तक केवल सऊदी अरब ने दावा पेश किया है। एशियाई कप 2023 के लिए क्वॉलिफायर्स कोरोना वायरस से प्रभावित हैं। 

घर के पिछवाड़े में मैराथन दौड़कर कोरोना वायरस चैरिटी के लिए जुटाए 22,000 डॉलर

इस महामारी के कारण दुनिया भर की खेल प्रतियोगिताएं ठप्प पड़ी हैं। विश्व कप 2022 के मेजबान कतर ने 2019 में एशियाई कप जीता था। बता दें कि विश्व के अधिकांश 203 देशों और स्वायत्त क्षेत्रों में फैल चुके कोरोना वायरस (कोविड-19) का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस खतरनाक वायरस से दुनियाभर में अब तक 44,136 लोगों की मौत हो गई है जबकि करीब 8.85 लाख कुल मामले सामने आ चुके हैं। 

दुनियाभर में संक्रमण के मामले सात दिन में दोगुने से ज्यादा बढ़े हैं वहीं, मौतें ढाई गुना अधिक हुई हैं। 24 मार्च तक चार लाख कुल मामले सामने आए थे और 18 हजार मौतें हो चुकी थीं, जो कि 01 अप्रैल तक कुल मामलों की संख्या बढ़कर नौ लाख के करीब पहुंच गई है और अब तक 44,136 मौतें हो चुकी हैं।

संबंधित खबरें